12 वीं पास युवती दुनियाभर में वंचितों के हक में बुलंद कर रही है आवाज

Share This :
आर्थिक तंगी के कारण खुद आगे नहीं बढ़ पाईं तो 12वीं पास सविता रथ ने अपना जीवन पर्यावरण संरक्षण और आदिवासी और भूविस्थापितों की मदद के लिए समर्पित कर दिया। प्रदेश में गरीब आदिवासियों के हक की लड़ाई लड़ने वाली सविता सामाजिक मुद्दों के अंतरराष्ट्रीय सम्मेलनों में हिस्सा ले रही हैं। रायगढ़ से लगभग 10 किलोमीटर दूर बरलिया की सविता रथ के पिता एमपीएसआरटीसी में गार्ड थे। चार भाई बहनों का गुजारा मुश्किल था तो ट्रेनिंग लेकर रेगड़ा के प्राइमरी स्कूल में शिशु शिक्षिका बनीं सविता ने पहले साक्षरता मिशन के लिए काम किया। 2006 में जनचेतना मंच से जुड़ीं और पर्यावरण संरक्षण के मुद्दों पर काम शुरू किया। अलग-अलग मंचों पर गईं तो बड़े देसी-विदेशी एनजीओ के लोगों से मुलाकात हुई। ओडिया भाषी होने के कारण सविता हिंदी ठीक से नहीं बोल बातीं लेकिन वे अंतरराष्ट्रीय मंचों पर महिला सशक्तिकरण और मानवाधिकार से जुड़े मुद्दे बखूबी उठाती हैं। एमनेस्टी इंटरनेशनल में भी काम कर चुकीं सविता कहती हैं वे आखिरी दम तक वंचितों के लिए लड़ेंगी। सविता के संघर्ष से 350 महिलाओं को मिली नौकरी, पर्यावरण संरक्षण बना जीवन का उद्देश्य कोयला सत्याग्रह से मिला नाम सविता लगभग 12 सालों से जिले के आदिवासी बहुल इलाकों में काम कर रही हैं। 2011 में कोयला सत्याग्रह शुरू कराया। ग्रामीणों को मिलाकर 750 एकड़ जमीन की लैंड बैंक तैयार किया। वे कहती हैं इस पर न तो खनन करने दिया जाएगा और ना ही ग्रामीण खनन करेंगे। ग्रामीण यहां खेती करते हैं। महिलाओं ने 2012 में गारे तापउपक्रम प्रोड्यूसर कंपनी रजिस्टर कराई। सविता की बड़ी उपलब्धियों में छाल एरिया की रत्थो बाई को एसईसीएल में नौकरी दिलाना है। कोल इंडिया महिलाओं को नौकरी नहीं देता था लेकिन सविता ने रथो बाई के साथ संघर्ष किया। नियम बदले तो रथो के अलावा देश में 350 महिलाओं को नौकरी मिली। सविता ने 2017 में सिलिकोसिस पर रिसर्च किया। पीड़ितों को मुआवजा दिलया। खदान क्षेत्र में जीवन कैसे बेहतर हो इस पर 2018 में सविता ने फिलिपींस और ढाका में प्रेजेंटेशन दिया। 2019 में श्रीलंका के एक सम्मेलन में हिस्सा लिया। जहां गृहयुद्ध में विधवा हुईं महिलाओं और परिवारों के पुनर्वास पर दुनियाभर के विशेषज्ञों ने चर्चा की। Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today Raigarh News – chhattisgarh news 12th pass girl is raising voice in favor of underprivileged worldwide

Author: newsnet

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *