जिला पंचायत अध्यक्ष बने अरुण िसंह, गिनती कर सदस्यों को मतदान के लिए भेजा गया

Share This :

सुबह 11 बजे नाम तय होने के बाद गरमाई राजनीति

जिला पंचायत अध्यक्ष पद पर कांग्रेस के अरुण सिंह ने जीत हासिल की। उन्होंने भाजपा उम्मीदवार नूरी दिलेंद्र कौशिक को 13 मतों से हराया। जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में यह पहले से ही तय था कि कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया जाना है। सिर्फ नामों को लेकर सहमति की बात थी। जैसे ही शुक्रवार की सुबह 11 बजे नाम फाइनल हुआ आधे घंटे में सुबह 11.30 को जिला पंचायत सदस्य अरुण सिंह चौहान ने जिला पंचायत जाकर नामांकन फार्म भरा। इस दौरान भाजपा से नूरी दिलेंद्र कौशिक ने भी नामांकन भरा। नामांकन पत्रों की समीक्षा, नाम वापसी और मतपत्र तैयार करने के बाद दोपहर 1.16 बजे से दोपहर 2 बजे तक मतदान हुअा। दोपहर 2.15 बजे परिणामों की घोषणा में अरुण सिंह चुनाव को कुल 22 मतों में से 17 मत मिले। वहीं भाजपा उम्मीदवार नूरी दिलेंद्र कौशिक को सिर्फ 4 मत मिले जबकि एक मत निरस्त हुआ। इस तरह अरुण सिंह चौहान 13 मतों से विजयी रहे। अध्यक्ष के चुनाव के बाद उपाध्यक्ष का चुनाव हुआ। इसमें कांग्रेस की ही हेमकुंवर अजित श्याम को उपाध्यक्ष के लिए निर्विरोध चुन लिया गया।

जानिए भाजपा के सदस्यों के दो क्रॉस वोटिंग की कहानी


जिला पंचायत अध्यक्ष अरूण सिंह चौहान को मिले 17 मत के अलावा एक मतपत्र कांग्रेस का निरस्त हुआ। मतपत्र में पहचान चिन्ह और पीछे दोनों जगह पर सील लग गई थी। इसके अलावा दो क्रास वोटिंग भाजपा के सदस्यों से कराई गई। जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में कांग्रेस ने सभी 16 सदस्यों को एकजुट रखा था। एक दिन पहले और मतदान के दिन जिला पंचायत के पास महापौर के आवास पर एकजुट रहे। इसके बाद भी कांग्रेस कोई मौका चूकना नहीं चाहती थी। पहले भाजपा चुनाव नहीं लड़ना चाहती थी लेकिन भाजपा नेता घनश्याम कौशिक इसके पक्ष में थे। लिहाजा कांग्रेसियों ने भाजपा के सदस्यों से संपर्क बनाए रखा। उन्हें समझाया गया कि उनकी पार्टी का अध्यक्ष नहीं बन रहा है इसलिए यदि वे साथ देंगे तो उनके क्षेत्र के काम को भी तवज्जो दी जाएगी और इसका फायदा भी दो क्रॉस वोटिंग से हुआ। भाजपा भी इस उम्मीद में थी कि जीतेंद्र पांडे को अध्यक्ष पद का चुनाव नहीं लड़ाने पर क्रॉस वोटिंग हो सकती है लेकिन ऐसा कुछ था ही नहीं। इसके अलावा जिला पंचायत चुनाव प्रभारी करुणा शुक्ला भी पेंड्रा दौरे में अरुण सिंह चौहान के साथ गई थीं।

मरकाम व पुनिया से चर्चा

के बाद नाम की घोषणा

जिला पंचायत चुनाव प्रभारी करुणा शुक्ला ने सभी सदस्यों से एक-एक कर चर्चा की। सेंट्रल पाइंट में हुई इस गोपनीय बैठक में चर्चा के बाद तब कांग्रेस ने नाम का खुलासा नहीं किया था। प्रभारी करुणा शुक्ला ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम व वरिष्ठ नेता पीएल पुनिया से चर्चा करने के बाद अरुण सिंह चौहान के नाम की घोषणा की। सुबह 11 बजे नाम तय होने के बाद अरुण सिंह चौहान ने 11.30 बजे नामांकन भरा। उनके प्रस्तावक राजेश्वर भार्गव थे।

जिपं अध्यक्ष में कांग्रेस के अरुण ने भाजपा के नूरी दिलेंद्र कौशिक को 13 मतों से हराया

कांग्रेस की ही हेमकुंवर निर्विरोध बनीं उपाध्यक्ष

सुबह से ही महापौर निवास में कांग्रेस नेताओं की रही भीड़

चुनाव प्रक्रिया के पहले महापौर रामशरण यादव के निवास में कांग्रेस नेताओं की भीड़ लगी रही। रणनीति तय की जाती रही। जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए नाम फाइनल होने के बाद यहां से कांग्रेस नेताओं की भीड़ जिला पंचायत की ओर रवाना हो गई।

नरवा, गरुवा, घुरवा और बारी योजना अच्छे से संचालित होगी- अरुण

जीतने के बाद जिला पंचायत अध्यक्ष अरुण सिंह चौहान ने कहा कि उन्हें यह जीत संगठन के सहयोग से मिली है। वे सीएम भूपेश बघेल की नरवा,गरुवा और घुरवा और बारी योजना काे जिले के सभी पंचायतों में और अच्छे से काम कराएंगे।

अटल खेमा बना सहारा : कोटा विधायक रेणु जोगी के कांग्रेस में रहते उनका विधायक प्रतिनिधि होने से उन पर जोगी दंपती के करीबी होने का आरोप लगता रहा। लेकिन पंचायत चुनाव की घोषणा के साथ ही अरुण सिंह ने प्रदेश संगठन महामंत्री अटल श्रीवास्तव व संगठन के अन्य नेताओं को अपने पक्ष में किया। इस वजह से चुनाव के दौरान भी पूरा संगठन उनके साथ नजर आया।

भाजपा ने भी उतारा उम्मीदवार : निगम चुनाव में उम्मीदवार नहीं उतारे जाने से हुई फजीहत के बाद जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव में भाजपा ने अपना उम्मीदवार उतारा। भाजपा से नूरी दिलेंद्र कौशिक ने इस दौरान नामांकन भरा। नामांकन भरने के दौरान उनके साथ घनश्याम कौशिक, चांदनी भारद्वाज शामिल रहीं। भाजपा से जिलाध्यक्ष रामदेव कुमावत भी जिला पंचायत पहुंच चुके थे।

जिपं उपाध्यक्ष के लिए फार्म भरतीं हेमकुंवर।

जिपं अध्यक्ष के लिए फार्म भरते कांग्रेस के अरुण सिंह।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Bilaspur News – chhattisgarh news arun singh became district panchayat president counting and sent members to vote
Bilaspur News – chhattisgarh news arun singh became district panchayat president counting and sent members to vote

Author: newsnet

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *