इन्फोसिस के फाउंडर नारायण मूर्ति के दामाद ऋषि सुनक वित्त मंत्री बने, ब्रेग्जिट के बाद साजिद जावीद ने इस्तीफा दे दिया था

Share This :

लंदन. इन्फोसिस के फाउंडर नारायण मूर्ति के दामाद ऋषि सुनक (39) गुरुवार को ब्रिटेन के नए वित्त मंत्री बनाए गए हैं। अभी वे ट्रेजरी के मुख्य सचिव के पद पर नियुक्त थे। ब्रेग्जिट के कुछ ही हफ्तों बाद साजिद जावीद ने वित्त मंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद ऋषि को यह जिम्मेदारी सौंपी गई है।

सरकार के सालाना बजट से पहले प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कैबिनेट में बड़े फेर-बदल किए हैं।उनमें से सुनक (चांसलर ऑफ एक्सचेकर) की नियुक्ति को बड़ा बदलाव बताया जा रहा है। बता दें ऋषि 2015 में पहली बार सांसद चुने गए। वे 2018 में स्थानीय सरकार में बतौर मंत्री शामिल हुए।2019 में उन्हेंट्रेजरी काचीफ सेक्रेटरी बनाया गया।इनके साथ ही एक और भारतीय आलोक शर्मा को व्यापार मंत्री बनाया गया है। उन्हें प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के वफादार समर्थक के रूप में देखा जाता है। 52 साल के आलोक शर्मा का जन्म भारत में हुआ। पांच साल की उम्र में वे पढ़ने के लिए दक्षिणी इंग्लैंड चले गए।

चुनाव प्रचार में भी ऋषि ने अहम रोल निभाया
ऋषि को कंजर्वेटिव पार्टी के उभरते सितारे के रूप में देखा जाता है। मीडिया इंटरव्यू के लिए सरकार अक्सर उन्हें ही आगे रखती है। इसके अलावा प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के चुनाव प्रचार में भी उन्होंने अहम रोल दिखाया। कई मौकों पर टीवी डिबेट में प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की जगह पर ऋषि ने हिस्सा लिया।

ऋषि ने ऑक्सफोर्ड से अर्थशास्त्र की पढ़ाई की
सुनक की पत्नी का नाम अक्शता है। वे नारायण मूर्ति की बेटी हैं। ऋषि और अक्शता की दो बेटियां कृष्णा और अनुष्का हैं। ऋषि ने अमेरिका की स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से एमबीए किया है। उन्होंने ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से राजनीति, दर्शन और अर्थशास्त्र की पढ़ाई की। राजनीति में आने से पहले ऋषि ने इन्वेस्टमेंट बैंक गोल्डमैन सैश और हेज फंड में काम किया। इसके बाद उन्होंने इन्वेस्टमेंट फर्म की भी स्थापना की। ऋषि के पिता डॉक्टर हैं और उनकी माता केमिस्ट शॉप चलाती हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Narayana Murthy Rishi Sunak | Infosys Narayana Murthy Son-in-law Rishi Sunak Latest News and Updates On Boris Johnson UK Finance Minister

Author: newsnet