शमी ने बुमराह की आलोचना करने वालों से पूछा- आप कैसे दो-चार मैच के बाद उनकी क्षमता पर सवाल उठा सकते हैं ?

Share This :

खेल डेस्क. मोहम्मद शमी साथी गेंदबाज जसप्रीत बुमराह के समर्थन में खुलकर सामने आए हैं। उन्होंनेशनिवार को बुमराह की आलोचना करने वालों से पूछा कि कुछ वनडे मैचों में खराब प्रदर्शन करने भर से आप यह कैसे भूल सकते हैं कि उन्होंने देश को कई मुकाबले जिताए हैं। शमी न्यूजीलैंड-XI के खिलाफ अभ्यास मैच का दूसरा दिन खत्म होने के बाद मीडिया से बात कर रहे थे।न्यूजीलैंड के खिलाफ तीन मैचों की वनडे सीरीज में बुमराहका प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा था। उन्होंने 3 मैच में 30 ओवर गेंदबाजी की। लेकिन,एक भी विकेट हासिल नहीं कर पाए। इसके बाद से ही उन पर सवाल उठ रहे हैं।

शमी ने आगे कहा, ‘‘हमें इतनी जल्दी बुमराह पर सवाल नहीं उठाने चाहिए। पिछले कुछ मैचों मेंउन्होंने उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं किया। इसका मतलब यह नहीं कि आप उनकी मैच जिताने की काबिलियत को नजरअंदाज करें। बुमराह ने देश के लिए जो हासिल किया है। उसे कोई कैसे भुला सकताहै। अगर आप सवाल उठाने के बजाए इसे सकारात्मक तरीके से लें, तो इससे न सिर्फ उनका (बुमराह) का आत्मविश्वास बढ़ेगा, बल्कि टीम भी मजबूत होगी।’’

बाहर बैठकर खामी निकालना आसान : शमी

उन्होंने आलोचकों को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि आप यह कैसे भूल सकते हैं कि बुमराह स्ट्रेस फ्रैक्चर से उबरने के बाद वापसी कर रहे हैं। एक खिलाड़ी के नाते, यह काफी मुश्किल होता है। बाहर बैठकर किसी में भी खामी निकाल देना आसान होता है। क्योंकि,कुछ लोगों को इसके लिए पैसा मिलता है।हर खिलाड़ी चोटिल हो सकता है। ऐसे में उसकी आलोचना करने के बजाए हमें सकारात्मक रुख अपनाना चाहिए। मैंने खुद 2015 में घुटने की सर्जरी कराई थी। लेकिन फिर मैदान पर वापसी की।

शमी ने कहा- खिलाड़ी को आलोचकों की तरफ ध्यान नहीं देना चाहिए

शमी इस बात को लेकर हैरान हैं कि कैसे एक-दो मैच में खराब प्रदर्शन होते ही किसी खिलाड़ी के प्रति लोगों का नजरिया बदल जाता है। लोग उसके बारे में अलग तरह से सोचने लग जाते हैं। हालांकि, एक खिलाड़ी के तौर पर हमें इस पर ध्यान नहीं देना चाहिए।

‘नवदीप सैनी वनडे में अहम साबित होंगे’

उन्होंने नवदीप सैनी की भी तारीफ की। शमी के मुताबिक, सैनी वनडे क्रिकेट में भारत के लिए अहम साबित होंगे। वे युवा और प्रतिभाशाली हैं। उनके पास गति और ऊंचाई है। हालांकि, किसी को जिम्मेदारी लेकर युवा खिलाड़ियों को तराशना होगा और मौजूदा टीम में सीनियर गेंदबाज यह रोल निभा रहे हैं।

बुमराह ने न्यूजीलैंड-XI के खिलाफ प्रैक्टिस मैच के दूसरे दिन11 में से 3 ओवर मेडन फेंके। साथ ही 18 रन देतेहुए 2 विकेट लिए। वहीं, शमी ने सबसे ज्यादातीन विकेट हासिल किए हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
न्यूजीलैंड-XI के खिलाफ अभ्यास मैच में बुमराह ने 2 और शमी ने तीन विकेट लिए।

Author: newsnet