नाबालिग के अपहरण मामले में पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष व ओपी गुप्ता की पत्नी गिरफ्तार

नाबालिग लड़की का परिवार सहित अपहरण कर ओडिशा में छिपाने के मामले में मोहला पुलिस ने बस्तर की पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष व ओपी गुप्ता की पत्नी जबिता मंडावी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी मंडावी लंबे समय से फरार थी, जिसकी तलाश में पुलिस की टीम लगी हुई थी। पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह के ओएसडी ओपी गुप्ता पर मोहला की नाबालिग लड़की ने शोषण का मामला दर्ज कराया था। मामला दर्ज होने के बाद नाबालिग लड़की अचानक पूरे परिवार सहित लापता हो गई। इसकी शिकायत लड़की के चाचा ने मोहला थाने में दर्ज कराई थी। इसके बाद पुलिस ने पतासाजी कर लड़की और उसके परिवार को ओडिशा से बरामद किया। अपहरण के इस मामले में पुलिस ने पहले ही ओपी गुप्ता के भाई शिवरतन गुप्ता सहित आरोपी श्रीराम चौधरी, राजेश शर्मा, सुमीत शर्मा, शत्रुहन सपहा को गिरफ्तार किया था। लेकिन ओपी गुप्ता की पत्नी और बस्तर की पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष मंडावी फरार थी। जिसकी पतासाजी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही थी। मोहला टीआई नीलेश पांडेय ने बताया कि पुलिस के बढ़ते दबाव को देख जबिता मोहला थाने पहुंची। उसे पुलिस ने गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया।
न्यायालय से देर शाम मिली जमानत : मोहला पुलिस ने जबिता को गिरफ्तार कर जिला न्यायालय में पेश किया, जहां से उसे जमानत मिली गई है। कोर्ट से जमानत मिलने के बाद वह वापस लौट गई हैं। जबिता को पुलिस न्यायालयीन कार्य के अंतिम समय में न्यायालय में पेश किया। जहां उनके वकील ने महिला और छोटे बच्चों का हवाला देकर जमानत याचिका पर तत्काल सुनवाई की अर्जी लगाई। जबिता के पक्ष को सुनने के बाद न्यायालय ने उसे जमानत दे दी है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

Powered by WPeMatico

%d bloggers like this: