Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors. Please consider supporting us by whitelisting our website.

रेलवे ने कहा- एक मई से अब तक 45 लाख लोगों ने श्रमिक ट्रेनों में सफर किया, अगले 10 दिन में 2600 ट्रेनों में 36 लाख यात्री सफर करेंगे


लॉकडाउन के दौरान रेलवे ने यात्रियों और प्रवासी मजदूरों के ट्रांसपोर्टेशन के बारे में शनिवार को जानकारी दी। रेलवे ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान अब तक 45 लाख लोगों ने श्रमिक ट्रेनों में सफर किया। इनमें से 80 फीसदी यूपी और बिहार के थे। रेलवे ने बताया कि हमने प्रवासी मजदूरों के आवागमन को लेकर 27 मार्च को एडवायजरी भी जारी की थी। इसमें ट्रकों या अन्य साधनों से प्रवासियों के अवैध ट्रैवल को रोकने की बात कही गई थी।

Here is the list of source and destination for the #ShramikSpecial trains running in the next 10 days pic.twitter.com/6omlE31Ng1

— PIB India #StayHome #StaySafe (@PIB_India) May 23, 2020

Here is the list of source and destination for the #ShramikSpecial trains running in the next 10 days pic.twitter.com/6omlE31Ng1

— PIB India #StayHome #StaySafe (@PIB_India) May 23, 2020

रेलवे की प्रेस कॉन्फ्रेंस अपडेट

  • रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद कुमार यादव ने कहा- एक मई से श्रमिक ट्रेनों के जरिए प्रवासी मजदूरों को उनके घरों तक पहुंचाया जा रहा है। ट्रेन में उन्हें मुफ्त खाना और पानी दिया जा रहा है। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग और दूसरे ऐहतियाती कदमों का ध्यान रखा जा रहा है।

  • उन्होंने बताया कि आज रोजाना 200 से ज्यादा श्रमिक ट्रेनें रोजाना चल रही हैं।
  • हमने फैसला लिया है कि स्टेशन पर टिकट बुकिंग काउंटर्स खोले जाएंगे। पुरानी स्थिति में लौटने के लिए एक जून से 200 मेल एक्सप्रेस ट्रेन शुरू की जाएंगी।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


Railways said- 45 lakh people traveled in labor trains so far during lockdown, 80% passengers were from UP-Bihar

Powered by WPeMatico

%d bloggers like this: