पहले कंटेनमेंट जोन 1 किमी तक, अब चंद घरों तक सिमटा

कोरोना वायरस के संक्रमण के शुरुआत में जिस एरिया इसके मरीज पाए जाते थे उस क्षेत्र को पूरी तरह से सील कर दिया जाता था। नगरीय क्षेत्रों में उस वार्ड के दोनों ओर से प्रवेश व निकासी पर रोक लगा दी जाती थी। अब इसे लगातार कम किया जा रहा है। नगर में तीन काेरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। किंतु कंटेनमेंट जोन सिमट कर अब चंद घरों तक रह गया है। बेलदारपारा में भी जिस एरिया में मरीज मिली केवल उन्हीं घरों के साइड की घेराबंदी की गई है, वहीं दो छात्रों के पॉजिटिव मिलने पर संबंधित होटल के आसपास के ही कुछ क्षेत्र की घेराबंदी की है। ऐसे में खतरा बढ़ रहा है लोग जहां कंटेनमेंट एरिया से बेधड़क आ जा रहे है कही कोई रोक टोक नहीं है।
यूक्रेन से लौटे व नगर के एक होटल में पेड क्वारेंटाइन में रह रहे दो छात्रों की रिपोर्ट कोरोना पाॅजिटिव निकलने से नगर में खलबली मच गई है। इसलिए कि पहले बेलदारपारा में एक मरीज मिली थी। वह एरिया नगर से थोड़ा हटके था जहां 15 प्रतिशत आबादी निवास करते हैं ।

नगर में बढ़ सकतेहैं काेरोना के मरीज

नगर में अभी तीन केस मिले हैं, तीनों की पहचान हो गई है, लेकिन जिस बेलदारपारा में एक युवती को पॉजिटिव पाया गया है, उस एरिया के सूत्रों के अनुसार क्षेत्र में बहुत लोग चेन्नई से आए हैं। उन्होंने न तो अपनी जानकारी दी है न ही कोरोना का टेस्ट कराया है। इससे इस बात की आशंका है कि अभी उस एरिया में कभी भी मरीजों की संख्या बढ़ सकती है। इसलिए यह जरूरी है कि प्रशासन उस एरिया में डोर टू डोर सर्वे कराए ताकि बाहर से आए लोगों की पहचान हो सके।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
First Containment Zone up to 1 km, now limited to few houses

Powered by WPeMatico

%d bloggers like this: