Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors. Please consider supporting us by whitelisting our website.

PUBG की जगह लेगा अक्षय कुमार का FAU-G, तो इंस्ट्राग्राम ऐप में रील्स को मिली नई जगह, कोविड-19 से बचने के लिए गूगल और एपल ने बनाया नया एक्सपोजर नोटिफिकेशन सिस्टम


आपको टेक्नोलॉजी पसंद है, लेकिन समय कम होने की वजह से आप इससे जुड़ी खबरें नहीं पढ़ पाते, तब हम आपके लिए टेक डिस्क्राइबर लेकर आए हैं। इस एक खबर में हम आपको इस सप्ताह अपडेट हुए ऐप्स के साथ लॉन्च होने वाली नई टेक्नोलॉजी के बारे में बताएंगे। तो चलिए जल्दी से शुरू करते हैं वीकली डिस्क्राइबर।

1. इंस्टाग्राम रील्स अपडेट: रील्स वीडियो देखने के लिए डेडिकेटेड टैब

  • टिकटॉक पर बैन लगने के बाद वीडियो क्रिएटर्स का रुझान इंस्टाग्राम रील्स की तरफ बढ़ा। ऐसे में यूजर्स को बेहतर एक्सपीरियंस देने के लिए फेसबुक ने शुक्रवार को इंस्टाग्राम रील्स का नया अपडेट जारी किया है। इस अपडेट के तहत अब नेविगेशन बार में एक्सप्लोर टैब (मैग्निफाइन ग्लास आइकन) की जगह डेडिकेटेड रील्स टैब दिखाई देगा।
  • कंपनी ने बताया कि इस टैब से यूजर सिंगल क्लिक से ही ऑटो-प्लेइंग रील्स वीडियो पर पहुंच जाएंगे। इस टैब में सिर्फ रील्स वीडियो ही दिखाई देंगे। इससे यूजर्स को नए क्रिएटर ढूंढने में आसानी होगी। भारत पहला देश है जहां सबसे पहले इस नए फीचर को रोल आउट किया जा रहा है। टिकटॉक की तरह इंस्टाग्राम रील्स भी एक शार्ट वीडियो शेयरिंग प्लेटफार्म है।

2. फेसबुक अपडेट: अब मैसेंजर पर भी 5 मैसेज ही फॉरवर्ड कर पाएंगे

  • फेसबुक ने भी गलत जानकारी देने वाले मैसेज पर रोक लगाने के लिए मैसेंजर चैट में बदलाव किए हैं। अब वॉट्सऐप की तरह फेसबुक मैसेंजर पर भी फॉरवर्ड होने वाले मैसेज की लिमिट तय कर दी गई है। यानी एक बार में फॉरवर्ड मैसेज को 5 यूजर या ग्रुप में ही भेज पाएंगे।
  • फेसबुक के मुताबिक, इस कदम को उठाने के पीछे फॉरवर्ड मैसेज की फर्जी खबरों पर रोक लगाना है, इसीलिए इसकी अधिकतम सीमा तय की गई है। इससे गलत इन्फॉर्मेशन देने वाले मैसेज को तेजी से फैलने से रोका जा सकेगा। ऐसे में अब आप भी किसी मैसेज को एक बारे में लिमिटेड यूजर्स से ही शेयर कर पाएंगे।
  • फेसबुक ने इस फीचर की टेस्टिंग मार्च से ही शुरू कर दी थी। अब कंपनी ने इसे रोल आउट करना शुरू कर दिया है। फिलहाल ये फीचर कुछ देशों तक सीमित है, लेकिन इसे 24 सितंबर से ग्लोबली रोल आउट कर दिया जाएगा।

3. गूगल और एपल ने कोविड-19 से बचने नया एक्सपोजर नोटिफिकेशन सिस्टम बनाया

  • कोविड-19 महामारी के लिए दुनिया की दो बड़ी टेक कंपनियां गूगल और एपल ने नए सिस्टम की घोषणा की है। इस सिस्टम को एक्सपोजर नोटिफिकेशन एक्सप्रेस का नाम दिया गया है। ये सिस्टम पब्लिक हेल्थ अथॉरिटीज को ऐप के बिना संपर्क ट्रेसिंग में मदद के लिए स्मार्टफोन का उपयोग करने में सक्षम बनाएगा।
  • एक्सपोजर नोटिफिकेशन एक्सप्रेस के इस नए सिस्टम में सार्वजनिक स्वास्थ्य अधिकारियों को एपल और गूगल के लिए एक छोटी कॉन्फिगरेशन फाइल सबमिट करने की अनुमति देगी। इसके बाद दोनों टेक कंपनियां सिस्टम को सेट करने के लिए फाइल का उपयोग करेंगी, ताकि फोन ऑनर यह तय कर सकें कि वे किसी ऐसे व्यक्ति के पास हैं, जिन्होंने कोरोनवायरस के लिए सकारात्मक परीक्षण किया है।
  • आईफोन के मामले में iOS ऑपरेटिंग सिस्टम का एक नया अपडेट यूजर्स को इस बात का अलर्ट करेगा कि क्या स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारियों से एक्सपोजर नोटिफिकेशन सिस्टम उपलब्ध है और यूजर्स को बिना किसी नए ऐप को डाउनलोड किए इसे सेट करने की अनुमति देता है। एंड्रॉयड डिवाइसों पर यूजर्स को फोन के ऑपरेटिंग सिस्टम से एक संकेत मिलेगा, लेकिन फिर भी ऑटोमैटिकली जनरेटेड ऐप को डाउनलोड करना होगा।

4. चीनी ऐप पर फिर सरकार का एक्शन: पबजी समेत 118 ऐप्स पर बैन

  • 15 जून की रात गलवान में हुई झड़प के 78 दिनों के भीतर सरकार ने तीसरी बार चीन के मोबाइल ऐप्स के खिलाफ सख्त एक्शन लिया है। केंद्र ने बुधवार (2 सितंबर) को मोबाइल गेमिंग ऐप पबजी समेत 118 ऐप्स पर बैन लगा दिया है। अकेले भारत में पबजी को 17.5 करोड़ से ज्यादा लोगों ने डाउनलोड किया है।
  • बैन की जानकारी देते हुए केंद्र ने कहा कि इन ऐप्स से भारत की सुरक्षा और संप्रभुता को खतरा है। गलवान में भारत-चीन सैनिकों की झड़प के बाद ही पहली बार सरकार ने 29 जून को यही कारण बताते हुए 59 चीनी ऐप्स बैन कर दिए थे। 27 जुलाई को भी 47 ऐप बैन किए गए थे। इस बार भी सरकार ने यह कदम तब उठाया है, जब लद्दाख में तनाव बढ़ रहा है और चीनी सैनिकों ने दो बार घुसपैठ की कोशिश की है। यह तब हुआ, जब दोनों देशों के कमांडर हालात नॉर्मल करने के लिए बातचीत कर रहे थे।अब इन्हें एपल के ऐप स्टोर और एंड्रॉयड के गूगल प्ले स्टर से हटा दिया गया है।
  • पबजी के दुनियाभर में 50 करोड़ डाउनलोड्स हुए हैं। 5 करोड़ डेली एक्टिव यूजर हैं, जो रोज ही यह गेम खेलते हैं। माइनक्राफ्ट, फोर्टनाइट, काउंटर-स्ट्राइक, वर्ल्ड ऑफ वारक्राफ्ट और क्लैश ऑफ क्लैन्स है भी लोकप्रिय गेम्स हैं, लेकिन पबजी जैसा कोई और नहीं है।

5. PUBG की जगह अक्षय का FAU-G

  • चीन में बने पॉपुलर मोबाइल गेमिंग ऐप पबजी पर बैन के दो दिन बाद ही अक्षय कुमार ने FAU-G यानी फौजी गेम लॉन्च करने का ऐलान किया है। यह गेम खेलने वालों को देश के जवानों के बलिदान के बारे में भी जानकारी देगा। यह अक्षय कुमार का पहला गेमिंग वेंचर है।
  • अक्षय ने इंस्टाग्राम पर लिखा है- पीएम मोदी के आत्मनिर्भर मूवमेंट को सपोर्ट करते हुए इस एक्शन गेम का प्रेजेंट करते हुए गर्व हो रहा है। निडर और एकता की मिसाल गार्ड्स – फौजी। एंटरटेनमेंट से इतर इस खेल में प्लेयर्स हमारे सैनिकों के बलिदान को जान सकेंगे। इस मोबाइल गेम से मिलने वाले रेवेन्यू का 20 फीसदी हिस्सा भारत के वीर ट्रस्ट को डोनेट किया जाएगा।
  • फौजी गेम के बारे में फिलहाल इतनी ही इन्फॉर्मेशन सामने आई है। यह गेम तब लॉन्च किया जा रहा है, जब पबजी पर बैन लगा दिया है। पबजी भारत में बेहद पॉपुलर था। इसे देश में करीब 17.5 करोड़ लोगों ने डाउनलोड किया था।

ये भी पढ़ सकते हैं

1. सस्ते 20000mAh पावरबैंक से स्मार्टफोन तक इस हफ्ते लॉन्च हुए ये स्मार्ट गैजेट्स, वेस्पा की प्रीमियम स्कूटर और टाटा-महिंद्रा के नए मॉडल भी बाजार में​​​​​​​

2. अब खुद-ब-खुद रंग बदलेगा स्मार्टफोन; वीवो ने डेवलप की नई तकनीक, बैक पैनल पर लगाया खास किस्म का ग्लास

3. बाइक या कार को चंद मिनटों में चमका देता है यह हाई प्रेशर वॉशर, घर की साफ-सफाई में भी करेगा मदद, कीमत के साथ जानिए कैसे करता है ये काम

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


पबजी पर बैन के बाद अक्षय कुमार ने FAU-G यानी फौजी गेम लॉन्च करने का ऐलान किया, इस गेम से मिलने वाले रेवेन्यू का 20 फीसदी हिस्सा भारत के वीर ट्रस्ट को डोनेट किया जाएगा।

Powered by WPeMatico

%d bloggers like this: