Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors. Please consider supporting us by whitelisting our website.

इंग्लिश टीम के पास ऑस्ट्रेलिया से लगातार तीसरी सीरीज जीतने का मौका; दोनों देशों के बीच 41 साल बाद एक ही वैन्यू पर लगातार तीन मैच


इंग्लैंड-ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन वनडे सीरीज का पहला मुकाबला थोड़ी देर में मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड मैदान पर खेला जाएगा। टी-20 सीरीज में ऑस्ट्रेलिया को 2-1 से हराने के बाद इंग्लैंड के पास वनडे सीरीज भी जीतने का मौका है। अगर इंग्लैंड टीम यह सीरीज जीतने में कामयाब हो जाती है, तो यह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उसकी लगातार तीसरी सीरीज जीत होगी। वहीं, ऑस्ट्रेलिया 5 साल बाद मेजबान टीम से सीरीज जीतने के इरादे से उतरेगा। पिछली बार ऑस्ट्रेलिया ने सितंबर 2015 में इंग्लैंड को उसी के घर में 5 वनडे की सीरीज में 3-2 से हराया था। इसके बाद दोनों टीमों के बीच दो वनडे सीरीज हुई और दोनों में ऑस्ट्रेलिया को हार का सामना करना पड़ा।

दोनों देशों के बीच तीनों वनडे मैनचेस्टर में खेले जाएंगे। 41 साल बाद ऐसा होगा, जब इंग्लैंड-ऑस्ट्रेलिया के बीच किसी सीरीज के लगातार तीन मैच एक ही वैन्यू पर खेले जाएंगे। पिछली बार 1979 में दोनों देशों के बीच 5 वनडे की सीरीज के आखिरी तीन मुकाबले मेलबर्न में खेले गए थे।

ऑस्ट्रेलिया का पलड़ा भारी

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच अब तक 22 सीरीज हुई है, जिसमें ऑस्ट्रेलिया ने 12 और इंग्लैंड ने 10 जीती है। वहीं, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया बीच इंग्लैंड में 15 सीरीज हुई। इसमें मेजबान टीम ने 8 और ऑस्ट्रेलिया ने सात जीती है।

जेसन रॉय और टेस्ट कप्तान जो रूट की वापसी से इंग्लैंड टीम मजबूत

इंग्लैंड टीम में वनडे सीरीज के लिए जेसन रॉय और टेस्ट कप्तान जो रूट की वापसी हुई है। रॉय चोट की वजह से पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी-20 सीरीज में हिस्सा नहीं ले पाए थे। टेस्ट टीम के कप्तान जो रूट को भी वनडे टीम के लिए वापस बुलाया गया है। रूट को टी-20 टीम में नहीं चुना गया था। चोट के कारण ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आखिरी टी-20 में नहीं खेलने वाले कप्तान इयोन मोर्गन एक बार फिर से टीम की कमान संभालते नजर आएंगे।

आखिरी टी-20 जीतने से ऑस्ट्रेलिया के हौसले बुलंद

वनडे सीरीज के लिए 14 सदस्यीय टीम के अलावा इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने तीन खिलाड़ियों को बतौर रिजर्व प्लेयर रखा है। इसमें डेविड मलान भी शामिल हैं। मलान ने इंग्लैंड के लिए टी-20 क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन किया था। इसके दम पर वे आईसीसी टी-20 रैंकिंग में नंबर1 बल्लेबाज बने। ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड का मानना है कि आखिरी टी-20 में मिली जीत के बाद कंगारू टीम ने मोमेंटम हासिल कर लिया है। इसका फायदा उन्हें वनडे सीरीज में होगा।

ऑस्ट्रेलिया ने वर्ल्ड कप के बाद से 7 में 2 मैच जीते

2019 वर्ल्ड कप के बाद से ऑस्ट्रेलिया का वनडे में रिकॉर्ड अच्छा नहीं रहा है। टूर्नामेंट के बाद से उसने 7 में से 2 ही मैच जीते। इस दौरान पांच या उससे ज्यादा मैच खेलने वाली 14 टीमों के बीच उसका तीसरा सबसे खराब विनिंग परसेंटेज है।

दोनों टीमें

इंग्लैंड: इयोन मोर्गन (कप्तान), मोइन अली, जोफ्रा आर्चर, जॉनी बेयरेस्टो, टॉम बैंटन, सैम बिलिंग्स, जोस बटलर, सैम कुरन, टॉम कुरन, आदिल रशीद, जो रूट, जेसन रॉय, क्रिस वोक्स और मार्क वुड।

रिजर्व खिलाड़ी: साकिब महमूद, डेविड मलान और फिल साल्ट

ऑस्ट्रेलिया: एरॉन फिंच (कप्तान), सीन एबॉट, एश्टन एगर, एलेक्स कैरी, पैट कमिंस (उपकप्तान), जोश हेजलवुड, मार्नस लाबुशाने, नाथन लियोन, मिशेल मार्श, ग्लेन मैक्सवेल, रिले मेरेडिथ, जोश फिलिप, डैनियल सैम्स, केन रिचर्डसन, स्टीवन स्मिथ, मिशेल स्टार्क, मार्कस स्टोइनिस, एंड्रयू टाय, मैथ्यू वेड, डेविड वार्नर।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Australia (AUS) VS England (ENG) 1st ODI Match Live Updates Eng vs Aus Match in Manchester

Powered by WPeMatico

%d bloggers like this: