Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors. Please consider supporting us by whitelisting our website.

6 लाख लोगों से मिलने का बिलासपुर पुलिस ने बनाया रिकार्ड


लोगों को साइबर क्राइम से जागरूक करने के लिए बिलासपुर पुलिस ने अपने साइबर मितान अभियान के तहत अभी तक करीब 6 लाख लोगों से मिलने का रिकार्ड बनाया है। एसपी प्रशांत अग्रवाल के अनुसार ऐसा पहले देश में कहीं नहीं हुआ। इससे लोगों को लगातार फायदा मिल रहा है और व अपराधियों की जाल में फंसने से बच रहे हैं। बिलासपुर में एक सितंबर से पुलिस ने साइबर मितान अभियान की शुरूआत की। इसके तहत आईजी दीपांशु काबरा ने ऑनलाइन सेमिनार किया। एसपी प्रशांत अग्रवाल ने साइबर एक्सपर्ट के साथ मिलकर फेसबुक पर लाइव जागरुकता कार्यक्रम चलाया।

हर रोज साइबर रक्षक सीधे लोगों से जुड़ रहे हैं और उन्हें साइबर क्राइम से निपटने के लिए जागरूक कर रहे। इसमें एसपीओ से लेकर विभिन्न समाजसेवी संगठन के लोग, व्यापारी,स्कूल-कॉलेज संचालक सहित अन्य पुलिस की मदद कर रहे हैं। वे शहर के साथ साथ गांव-गांव, घर-घर जाकर लोगों को साइबर क्राइम से बचने के लिए जागरूक कर रहे हैं। आकाशवाणी के माध्यम से भी घर-घर अभियान को पहुंचाने की कोशिश की जा रही है। इसी कड़ी में मुंबई से वॉलीवुड अभिनेता भी शहर में आए। पुलिस ने लोगों को जागरूक करने के लिए 14 शार्ट फिल्में बनाई है। 8 सितंबर को इस अभियान का समापन है। एसपी प्रशांत अग्रवाल के अनुसार लोगों को साइबर अपराध से बचाने के लिए वे आगे भी काम करते रहेंगे।

जानिए पुलिस के अभियान से किस तरह से बच रहे लोग

कैश बैक का झांसा दिया पर पता चल गया ठग ने किया है फोन तारबाहर थाना के एसपीओ हनी के बनाए साइबर मितान इमरान के मोबाइल पर अनजान नंबर से कॉल आया। काल करने वाले ने कहा कि आपके फोन पे ऐप में कैशबैक मिला है। आप उसका उपयोग क्यों नहीं किए हैं? बातचीत में इमरान को ठगी का अहसास हो गया और वह झांसे में आने से बच गया।

अभियान से जुड़े होने का मस्तूरी क्षेत्र के दो युवकों मिला फायदा

मस्तूरी किरारी के रोजगार सहायक नरेंद्र सिंह को फोन कर ठग ने इनाम में बाइक जीतने का झांसा दिया। इसी तरह ग्राम भदौरा के रुद्र प्रताप टंडन को वाट्सएप पर लॉटरी जीतने का मैसेज आया। दोनों इस अभियान से जुड़े हुए हैं। इस कारण ठगी नहीं हो सकी ।

25 लाख इनाम जीतने का लालच मिला पर पुलिस की बात याद आ गई

ग्राम बिनौरी के सायबर रक्षक गांव में सायबर जागरूकता अभियान चला रहे हैं। 2 सितंबर को राज पंडित महिलांगे मोबाइल पर 25 लाख इनाम जीतने का मैसेज आया पर उसने ध्यान नहीं दिया और मैसेज डिलिट कर दिया और इस तरह से ठगी से बच गया।

फेसबुक से मांगी रकम फोन कर पता कर लिया

बेलगहना के जनपद सदस्य प्रभात पांडेय के पास 2 सितंबर को उनके परिचित पवन अग्रवाल के फेसबुक एकाउंट से 20 हजार राशि की मांग की गई। प्रभात जागरुकता कार्यक्रम में थे। उन्होंने कन्फर्म करने वीडियो कॉल किया जिसे ठग ने रिजेक्ट कर दिया। उन्होंने पवन से बात की तो असलियत का पता चला।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Bilaspur police set a record of meeting 6 lakh people

Powered by WPeMatico

%d bloggers like this: