Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors. Please consider supporting us by whitelisting our website.

केंद्रीय मंत्री रिजिजू ने कहा- चीन की सेना के पास ही हैं 5 लापता युवक, कल किसी भी वक्त उन्हें भारत को सौंपा जाएगा


7 दिन पहले अरुणाचल से गायब हुए 5 युवक शनिवार को किसी भी समय भारत को सौंपे जा सकते हैं। केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने शुक्रवार को इस बात की जानकारी दी कि चीन की सेना ने भारतीय सेना को युवकों को हैंडओवर करने के बारे में कंफर्म कर दिया है।

6 सितंबर को चीनी सैनिकों को हॉटलाइन पर मैसेज भेजकर गायब युवकों के बारे में जानकारी मांगी गई थी। 8 सितंबर को हॉटलाइन पर ही चीन ने इन युवकों के अपनी सीमा में होने की पुष्टि की थी।

LRRP दल के साथ पोर्टर्स का काम कर रहे थे युवक
गायब हुए युवकों के परिजनों ने बताया था कि ये लोग मैकमोहन लाइन की पेट्रोलिंग कर रहे जवानों (लॉन्ग रेंज रिकॉन्सन्स पेट्रोल यानी LRRPs) के लिए जरूरी सामान ढोने का काम कर रहे थे। पोर्टर्स के तौर पर इन्हें निगरानी दल में शामिल किया गया था। इनकी उम्र 18 से 20 साल के बीच थी। परिजनों ने आशंका जाहिर की थी कि हो सकता है कि ये युवक पहाड़ी में पारंपरिक जड़ी-बूटियां ढूंढने के दौरान निगरानी दल से अलग होकर भटक गए हों।

अरुणाचल के विधायक ने दावा किया था- चीनी सैनिकों ने अगवा किया
5 सितंबर को अरुणाचल के कांग्रेस विधायक निनॉन्ग एरिंग ने ट्विटर पर चीनी सेना द्वारा 5 लोगों के अगवा किए जाने का दावा किया था। उन्होंने लड़कों के नाम टोक सिंग्काम, प्रसात रिंगलिंग, दोंग्तु इबिया, तानु बेकर और नागरू दिरि बताए थे। एरिंग ने कहा था कि चीन के सैनिकों ने नाछो कस्बे में रहने वाले पांच लड़कों को अगवा किया है। उन्होंने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से अपील की थी कि पांचों लड़कों की सुरक्षित वापसी होनी चाहिए।

अगवा किए गए सभी पांच लड़के तागिन समुदाय के है। एरिंग के दावे के मुताबिक, चीनी सैनिकों ने नाछो क्षेत्र के जंगल से इन्हें उठाया गया था। यह क्षेत्र सुबानसिरी जिले में आता है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


5 सितंबर को अरुणाचल के कांग्रेस विधायक निनॉन्ग एरिंग ने ट्विटर पर चीनी सेना द्वारा 5 लोगों के अगवा किए जाने का दावा किया था। (फाइल फोटो)

Powered by WPeMatico

%d bloggers like this: