Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors. Please consider supporting us by whitelisting our website.

डब्ल्यूएचओ की अगुआई वाली कोरोना वैक्सीन की सप्लाई और डिस्ट्रीब्यूशन स्कीम से जुड़े 156 देश, चीन और अमेरिका इसमें शामिल नहीं; अब तक 3.14 करोड़ मामले


डब्ल्यूचओ ने भविष्य में तैयार होने वाली कोरोना वैक्सीन की सप्लाई और डिस्ट्रीब्यूशन की स्कीम तैयार की है। इसे कोवैक्स स्कीम नाम दिया गया है। स्कीम से दुनिया के 156 देश जुड़ चुके हैं। इनमें दुनिया के 64 सेल्फ फाइनेंसिंग और आर्थिक तौर पर मजबूत देश भी शामिल हैं। हालांकि, चीन और अमेरिका इस लिस्ट में शामिल नहीं है।

डब्ल्यूएचओ इसके लिए अंतराराष्ट्रीय स्तर पर वैक्सीन का डिस्ट्रीब्यूशन करने वाली संस्था गावी के साथ मिलकर काम करेगा। इस स्कीम के जरिए यह तय किया जाएगा कि वैक्सीन पहुंचाने और इसके डिस्ट्रीब्यूशन में किसी तरह की गड़बड़ी न हो। डब्ल्यूएचओ के निदेशक ट्रेडोस गेब्रेसिएस ने सोमवार को स्कीम का ऐलान किया। उन्होंने कहा यह कोई चैरिटी नहीं है। हालांकि, यह सभी देशों के हित में है।

दुनिया में अब तक 3 करोड़ 14 लाख 99 हजार 343 मामले हो चुके हैं। 9 लाख 69 हजार 287 लोगों की मौत हो चुकी है। अच्छी बात ये कि 2 करोड़ 31 लाख 9 हजार 498 लोग ठीक भी हो चुके हैं। ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं।

इन 10 देशों में कोरोना का असर सबसे ज्यादा

देश

संक्रमित मौतें ठीक हुए
अमेरिका 70,46,216 2,04,506 4,299,525
भारत 5,560,105 88,965 4,494,720
ब्राजील 4,560,083 137,350 3,887,199
रूस 1,109,595 19,489 911,973
पेरू 772,896 31,474 622,418
कोलंबिया 770,435 24,397 640,900
मैक्सिको 700,580 73,697 502,982
स्पेन 671,468 30,663 उपलब्ध नहीं
साउथ अफ्रीका 661,936 15,992 591,208
अर्जेंटीना 640,147 13,482 508,563

अमेरिका: महामारी को लेकर ट्रम्प ने झूठा बोला

दुनियाभर में कोरोनावायरस के मामले बढ़ते जा रहे हैं। इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने महामारी से हो रही मौतों को लेकर झूठ बोला। उन्होंने ओहियो की रैली में कहा कि अमेरिका में फैटेलिटी रेट (मृत्यु दर) दुनिया में सबसे कम है। जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी की मानें तो फैटेलिटी रेट के मामले में अमेरिका दुनिया के 195 देशों में 53वें पायदान पर है। अमेरिका में फैटेलिटी रेट 2.9% है। वहीं, ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने फिर से लोगों से घर से ही काम करने की अपील की है।

सोमवार को ओहियो की रैली में डोनाल्ड ट्रम्प ने एक बार फिर से महामारी को लेकर झूठ बोला। पहले भी इसे लेकर वे कई बार गलत दावे कर चुके हैं।

ब्रिटेन: रात 10 बजे से पब-रेस्तरां में कर्फ्यू
यूके ने पब, बार और रेस्टोरेंट्स में कर्फ्यू 10पीएम कर्फ्यू का ऐलान किया है। कैबिनेट मंत्री माइकल गॉव ने इस बात की जानकारी दी। उनके मुताबिक, देश में संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है। अस्पताल जाने वालों की संख्या में भी इजाफा हो रहा है, इसी के चलते ये फैसला लिया गया है। पब्स में कब तक कर्फ्यू रहेगा, फिलहाल ये स्पष्ट नहीं हो पाया। प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने एक बार फिर लोगों को वर्क फ्रॉम होम करने की सलाह दी है। उन्होंने सांसदों से कहा कि जल्द एक्शन लें, ताकि बाद में जाकर हमें और कड़े फैसले न लेने पड़ें।

ब्रिटेन के लिवरपूल में सोमवार को स्टैच्यू ऑफ बीटल्स के पास से गुजरती एक महिला। सरकार ने यहां कई इलाकों में मास्क जरूरी कर दिया है।

चेक रिपब्लिक: प्रधानमंत्री ने माफी मांगी
चेक रिपब्लिक के प्रधानमंत्री आंद्रेज बाबीज सोमवार को अस्पताल में भर्ती हो गए। कोरोना दौर में छूट दिए जाने को लेकर सरकार के फैसले पर उन्होंने माफी मांगी। कहा कि इस तरह का फैसला दोबारा नहीं लिया जाएगा। गर्मियों तक महामारी की स्थिति को कंट्रोल कर लिया जाएगा। देश में मामले बढ़ने के बाद अब सार्वजनिक स्थानों पर मास्क को जरूरी कर दिया गया है।

चेक रिपब्लिक की राजधानी प्राग में एक ट्राम को डिसइनफेक्ट करने में जुटा कर्मचारी।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


डब्ल्यूएचओ के निदेशक ट्रेडोस गेब्रेसिएस ने सोमवार को भविष्य में तैयार होने वाली कोरोना वैक्सीन को दुनिया भर में पहुंचाने की स्कीम शुरू करने का ऐलान किया।

Powered by WPeMatico

%d bloggers like this: