Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors. Please consider supporting us by whitelisting our website.

स्पंज आयरन लिया, नहीं दिए 62 लाख रु., जुर्म दर्ज


पूंजीपथरा थाना क्षेत्र के रायगढ़ इस्पात एंड पावर प्राइवेट लिमिटेड के प्रबंधक ने कंपनी से धोखाधड़ी कर लाखों रुपए की स्पंज आयरन हड़पने का आरोप लगा भिलाई के उद्यमी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई है। शिकायत पर पुलिस ने धोखाधड़ी का अपराध दर्ज कर कंपनी के लोगों का बयान लेकर आराेपी उद्यमी की तलाश कर रही है। रायगढ़ शहर के जगतपुर निवासी सुनील कुमार पंडा ने पूंजीपथरा पुलिस को बताया कि वह रायगढ़ इस्पात एंड पावर लिमिटेड देलारी गेरवानी में प्रबंधन का कार्य देखते हैं। कंपनी शहर के चैतन्य नगर निवासी कमल किशाेर अग्रवाल पिता किशन लाल अग्रवाल की है।

उनकी कंपनी से भिलाई के इंडस्ट्रियल एरिया हथखोज स्थित मेसर्स पावर पैक स्टील इंडस्ट्रीयल के कमल बंसल उससे कई वर्षों से स्पंज आयरन खरीद रहे हैं। करोड़ों रुपए का माल देने के बाद कंपनी के खाते में भुगतान भी आ जाता था। इसी भरोसा पर गेरवानी स्थित उनके प्लांट से भिलाई के लिए कमल बंसल के कहने पर 3 जुलाई 2018 से दिसंबर 2019 तक के बीच करीब एक करोड़ रुपए का माल भेजा गया था। जिसमें 67 लाख 19 हजार 408 रुपए बकाया थे। इसके लिए लगातार कंपनी की ओर से कमल बंसल पर दबाव बनाया जा रहा था। कमल रुपए देने के लिए समय मांग रहा था।

इस पर कमल बंसल ने 24 दिसंबर 2019 को इलाहाबाद बैंक का चेक अलग-अलग धनराशि की कंपनी के नाम दी। जिसमें उन्होंने एक पत्र भी लिख कर दिया था कि उक्त चेक 1 जनवरी से 31 मार्च के बीच बैंक में लगाया जाए। भिलाई के उद्यमी पर विश्वास करते कंपनी ने जनवरी माह में जब दो चेक इलाहाबाद बैंक शाखा में लगाए तो कमल का दिया हुआ 5 लाख 33 हजार 303 रुपए का सिर्फ एक चेक ही क्लीयर हुआ ।

बैंक में रुपए न होने पर अन्य चेक मार्च तक क्लीयर नहीं हुआ। उनपर 61 लाख 88 हजार 105 बकाया बना रहा। कंपनी का दबाव पड़ने पर उनसे कई बार भिलाई जाकर रुपए की रिकवरी करनी चाही गई। लेकिन वह टाल मटोल करता रहा और बाद में फोन उठाना भी बंद कर दिया। भिलाई के उद्यमी ने स्पंज आयरन लेकर कंपनी के साथ 61 लाख की धोखाधड़़ी की है। थाना प्रभारी अमित सिंह ने बताया कि अपराध दर्ज कर विवेचना में लिया गया है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today

Powered by WPeMatico

%d bloggers like this: