Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors. Please consider supporting us by whitelisting our website.

ग्रामीणों ने डीजल चोरों को पकड़ा तो एसआई ने तस्दीक के बहाने छोड़ा, टीआई बोले-मौके पर कोई मिला ही नहीं


कुसमुंडा थाना के अधीन आने वाले हरदीबाजार उप थाना से महज 2 सौ मीटर दूर सरईसिंगार बजरंग चौक के पास शनिवार की रात करीब 8 बजे दो पिकअप में स्कार्फ से चेहरा ढंके करीब 30 लोग दिखे। जिन्हें ग्रामीणों ने रोक लिया। वाहन में डीजल के खाली डिब्बे व पाइप देखकर उन्हें समझते देर नहीं लगी कि वे लोग डीजल चोर गिरोह के सदस्य हैं। इसकी सूचना डायल 112 के साथ ही हरदीबाजार पुलिस को दी गई।

पिकअप सवार लोग खुद को बिलासपुर निवासी शाहिद का आदमी बताते हुए ग्रामीणों को धमकी देने लगे। दूसरी ओर पुलिस स्टाफ कम होना बताकर मौके पर नहीं पहुंची। उच्च अधिकारियों तक सूचना पहुंचने पर 1 घंटे बाद हरदीबाजार चौकी से एसआई आशीष सिंह पहुंचे। उन्होंने तस्दीक के नाम पर वाहनों को ले जाने के बहाने मौके से रवाना कर दिया। मामले में किसी तरह की कार्रवाई नहीं की गई।

सरईसिंगार निवासी रवि राठौर के मुताबिक ग्रामीणों में पुलिस की कार्यप्रणाली को लेकर आक्रोश है। दूसरी ओर इस संबंध में पूछने पर हरदीबाजार चौकी के निरीक्षक रमेश पांडेय ने मौके पर पुलिस टीम को कोई नहीं मिला कहकर कार्रवाई नहीं होने की जानकारी दी। पुलिस के उच्च अधिकारी भी इस मामले में गोलमोल जानकारी देते रहे।

संदेह पर जांच नहीं एसआई ने की बहानेबाजी

पुलिस टीम ग्रामीणों के संदेह पर मामूली मामले में भी जांच के नाम पर लोगों को बिठा लेती है। लेकिन एसईसीएल की खदानों में डीजल चोरों के आतंक के बाद भी पिकअप में खाली डिब्बे व पाइप लेकर जा रहे बाहरी लोगों के पकड़े जाने के बाद संदेह के आधार पर जांच नहीं किया गया। बल्कि इस संबंध में पूछने पर एसआई आशीष सिंह ने बहानेबाजी करते हुए खाली डिब्बे व पाइप के आधार पर सीधे कोई कार्रवाई नहीं बनती और उक्त लोग किसी ट्रांसपोर्टर के हो सकते हैं कहते हुए बहानेबाजी की। जबकि ट्रांसपोर्टर के कर्मचारियों को भी खाली डिब्बे या डिब्बे में डीजल लेकर जाने की अनुमति नहीं होती।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


When the villagers caught the diesel thieves, SI gave up the pretext of Tasdeek, TI said – no one was found on the spot

Powered by WPeMatico

%d bloggers like this: