Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors. Please consider supporting us by whitelisting our website.

कारोबारी के बेटे को ढ़ाबे से किया अगवा, 18 लाख के लेनदेन में अपहरण, 20 मिनट बाद ही फिरौती के लिए आया फोन


जुनवानी के चौहान ग्रीन वैली में रहने वाले कारोबारी बलजीत सिंह सेठिया के 17 वर्षीय बेटे का शनिवार रात करीब 9 बजे दुर्ग-नागपुर हाईवे रोड स्थित उड़ता पंजाब ढाबे से कार सवार तीन बदमाशों ने अपहरण कर लिया। किडनैपिंग के 20 मिनट बाद किडनैपर ने कारोबारी के पत्नी को फोन लगाकर 50 लाख रुपए की फिरौती की मांग की। इसी से पुलिस को शक हो गया कि किडनैपर कोई प्रोफेशनल गैंग से नहीं है। पुलिस को शक है कि किसी परिचित ने ही वारदात को अंजाम दिया है। इसके बाद कारोबारी और उसकी पत्नी ने स्मृति नगर पुलिस से संपर्क किया।
रात करीब 9.45 बजे कारोबारी के ढाबे का मैनेजर ने सोमनी थाने में शिकायत की। पुलिस ने देर रात अपराध क्रमांक 190/20 धारा 363, 364ए, 384 आईपीसी के तहत रात्रि 10.30 बजे के करीब मामला कायम कर लिया। पुलिस कारोबारी के बेटे समेत किडनैपर की तलाश कर रही है। पुलिस को ढाबे पर लगे सीसीटीवी कैमरा का फुटेज और दुर्ग हाईवे पर बने टोल नाके पर लगे फुटेज मिले हैं।

सीसीटीवी में पूरी वारदात कैद

पहले ढाबा में खाना खाया
कारोबारी ने पूछताछ में बताया है कि कार सवार तीनों आरोपी ढाबे पर पहुंचे थे। इसके बाद तीनों ने खाना खाया फिर चिल्ली पनीर पैक कराया। बातचीत करने के लिए कारोबारी के बेटे को पास बुलाया और कार में जबरन बैठाकर अपहरण करके ले गए।

बातचीत करने बुलाया था
पुलिस को ढाबे में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज मिले है। 5 मिनट के फुटेज में अपहरणकर्ताओं की पूरी करतूत दिखाई दे रही है। एक आरोपी इसमें लगातार फोन पर बात करता दिखाई दे रहा है। जबकि उसके दो साथी पहले दूरी बनाए हुए हैं।

पढ़िए प्रत्यक्षदर्शी ढाबा मैनेजर रितेश की जुबानी…
मालिक का बेटा कुछ सामान छोड़ने के लिए ढाबा आया था। इसके कुछ देर बाद रात के करीब 9 बजे तीन लोग कार में खाना खाने पहुंचे। तीनों ने कुछ देर बैठ कर खाना खाया। चिल्ली और पनीर भी पैक भी कराया। उन्होंने गुरजीत से बातचीत करते हुए उसे अपनी कार की ओर गए। तब गुरप्रीत उनसे बात करते हुए कार की ओर बढ़ता रहा। कुछ देर बाद उसने भागने का भी प्रयास किया, लेकिन उन्होंने उसे पकड़कर अपनी कार में बैठा लिया।

किडनैपर ने फोन कर मां से कहा- अगर अपने बेटे की सलामती चाहते हो तो 50 रुपए की व्यवस्था कर लो…
पुलिस की पूछताछ में कारोबारी ने बताया कि किडनैपर ने पत्नी के नंबर पर फोन लगाया था। उसने कहा था कि भईया का फोन नहीं लग रहा है। अगर बेटे की सलामती चाहते हो तो 50 लाख रुपए की व्यवस्था कर लो। दैनिक भास्कर की टीम ने ग्रीन वैली के बी 13 ब्लॉक में जाकर कारोबारी के परिवार से संपर्क किया। परिवार का रो-रोकर बुरा हाल था। घटना की सूचना मिलने पर कई रिश्तेदार भी आ गए थे।

प्रोफेशनल गैंग नहीं है…
“वारदात में कोई प्रोफेशनल गैंग शामिल नहीं है। पूरे विवाद के पीछे पैसों को लेनदेन का पता चला है। कारोबारी को जिसे पैसा लौटाना था,वह उसका फोन नहीं उठा रहा था। मामले में जांच जारी है।”
-विवेकानंद सिन्हा, आईजी, दुर्ग रेंज

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


कारोबारी का अपहृत बेटा।

Powered by WPeMatico

%d bloggers like this: