Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors. Please consider supporting us by whitelisting our website.

एफडी ने प्रधानमंत्री की संपत्ति एक साल में 36 लाख रुपए बढ़ाई, शेयर बाजार ने गृह मंत्री की संपत्ति 3.6 करोड़ रुपए घटाई


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में अपनी संपत्तियों और देनदारियों की जानकारी दी है। पिछले साल तक उनके पास 2.49 करोड़ रुपए की संपत्ति थी। इस साल 30 जून तक यह बढ़कर 2.85 करोड़ रुपए हो गई। बैंक बैलेंस और एफडी से उनकी संपत्ति में एक साल में 36 लाख रुपए का इजाफा हुआ है। गृह मंत्री अमित शाह ने भी अपनी संपत्ति का ब्योरा दिया है। इसके मुताबिक, उनका पैसा शेयर बाजार में लगा है। बाजार में उतार-चढ़ाव की वजह से उन्हें 3.6 करोड़ का नुकसान हुआ है।

पीएम पर कोई कर्ज नहीं
70 साल के प्रधानमंत्री पर कोई कर्ज नहीं है। उनके पास 31 हजार 450 रुपए नकद हैं। बैंक खाते में 3.38 लाख रुपए हैं। 31 मार्च 2019 को उनके बैंक खाते में सिर्फ 4,143 रुपए थे। एसबीआई की गांधीनगर शाखा में उनकी एफडी में 1 करोड़ 60 लाख 28 हजार 39 रुपए रहे हैं। एक साल पहले यह रकम एक करोड़ 27 लाख 81 हजार 574 रुपए थी।

मोदी 8 लाख 43 हजार 124 रुपए के नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट के जरिए टैक्स सेविंग करते हैं। अपने जीवन बीमा के लिए 1 लाख 50 हजार 957 रुपए की प्रीमियम चुकाते हैं। उनके पास नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट के 7 लाख 61 हजार 646 रुपए थे। जीवन बीमा प्रीमियम के रूप में 1 लाख 90 हजार 347 रुपए का पेमेंट किया है।

फिक्स डिपॉजिट में बढ़ोतरी हुई है

भारतीय स्टेट बैंक की गांधीनगर शाखा में उनकी फिक्स डिपॉजिट की रकम 30 जून 2020 तक बढ़कर 1 करोड़ 60 लाख 28 हजार 39 रुपए हो गई है, जो कि पिछले फाइलेंशियल ईयर में 1 कराड़ 27 लाख 81 हजार 574 रुपए थी। 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए दिए हलफनामे में उन्होंने यह जानकारी दी थी।

पीएम मोदी के पास कोई कार नहीं
ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, पीएम मोदी की अचल संपत्ति में कोई खास बदलाव नहीं हुआ है। उनके नाम पर गांधीनगर में एक मकान है, जिसकी कीमत 1.1 करोड़ रुपए है। इस परिवार का मालिकाना हक मोदी और उनके परिवार को है। उनके पास सोने की चार अगूठियां हैं। पीएम मोदी के पास कोई कार नहीं है।

2 लाख है मोदी की सैलरी
मोदी की तनख्वाह दो लाख रुपए है, जो वैश्विक स्तर के मुकाबले काफी कम है। कोरोना वायरस से प्रभावित हुई अर्थव्यवस्था को देखते हुए पीएम मोदी ने राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, कैबिनेट सदस्यों और सांसदों के साथ अपनी तनख्वाह में 30 फीसदी की कटौती की है। इसकी शुरुआत अप्रैल महीने से हुई थी। पीएम मोदी की संपत्तियों में यह बढ़ोतरी उनकी तनख्वाह की बचत और एफडी के ब्याज से हुई है।

गृह मंत्री अमित शाह की संपत्ति घटी

गृह मंत्री अमित शाह ने भी अपनी संपत्ति का ब्योरा प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) को सौंपा है। इससे पता चलता है कि उनकी संपत्ति घट गई है। शाह को शेयर बाजार के उतार चढ़ाव के चलते इस साल नुकसान उठाना पड़ा है। पिछले साल तक उनके पास 32.3 करोड़ रुपए की संपत्ति थी। यह जून 2020 तक घटकर 28.63 करोड़ रुपए रह गई। उनके पास 10 अचल संपत्तियां हैं, जिनकी कुल वैल्यू 13.56 करोड़ रुपए है।

शाह का एक करोड़ का बैंक बैलेंस

गृह मंत्री के पास पास कैश में 15 हजार 814 रुपए हैं। एक करोड़ रुपए बैंक बैलेंस है। इंश्योरेंस, पेंशन पॉलिसीज मिलाकर कुल 13.47 लाख रुपए हैं। 2.79 लाख रुपए फिक्स्ड डिपॉजिट में हैं और उनके पास करीब 44.47 लाख रुपए की ज्वेलरी है।

प्रधानमंत्री के अलावा गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, विदेश मंत्री एस जयशंकर, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण समेत अधिकतर सीनियर मंत्रियों ने अपनी संपत्ति का ब्योरा दे दिया है। वहीं, रामदास अठावले, बाबुल सुप्रियो समेत कई जूनियर मंत्रियों ने अभी यह डीटेल्स सार्वजनिक नहीं की हैं। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की संपत्ति में इस साल ज्यादा फेरबदल नहीं हुआ है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


PM Modi declares his assets. All about where he has invested his personal wealth

Powered by WPeMatico

%d bloggers like this: