Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors. Please consider supporting us by whitelisting our website.

गांवों के खंभे हो गए पुराने, विभाग नहीं बदल रहा


जिले के कई गांवों में बिजली पोल की स्थिति कंडम हो चुकी है। इसके चलते हादसे का खतरा बना हुआ है। कई जगहों पर लगे सीमेंट पोल तेज हवाओं में हिलने लगते हैं। ग्रामीणों द्वारा कई बार विभाग से कंडम हो चुके पोलों को बदलने गुहार लगाया जा चुका है, लेकिन हर बार सिर्फ आश्वासन देकर काम चला लिया जा रहा है।
ग्राम दसपुर में 10 बिजली पोल तीन वर्षों से खराब स्थिति में है। इसमें चार बिजली पोल की स्थिति कंडम है। इनमें से तीन पोल में तो लोहे का एंगल लगाकर काम चलाया जा रहा है। कुछ बिजली पोल में दरारें आ गई है और छड़ दिखाई पड़ रहे हैं। प्यारी नेताम ने कहा उनके घर के सामने लगा बिजली पोल कंडम हो गया है। तेज हवाएं व बारिश होने पर खराब बिजली पोल के गिरने का खतरा बना रहता है। प्रहलाद ठाकुर, शिवकुमार नेताम, प्रकाश चंद्र ने कहा गांव में कई सीमेंट पोल कंडम हो चुके हैं। इसे बदलने ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

गेट में बांधकर काम चलाया जा रहा है
ग्राम भीरावाही में खराब बिजली पोल को लेकर सर्वे भी कुछ दिन पहले हो चुका है। ग्रामीणों के अनुसार गांव में 5 बिजली पोल कंडम स्थिति में है। एक बिजली पोल को घर के प्रवेश द्वार के गेट में रस्सी बांधकर काम चलाया जा रहा है। भीरावाही के भगवान सिंह जैन, विनोद नाविक, प्रकाश नाविक, अशोक निषाद ने कहा गांव में 5 बिजली पोल खराब हो चुके हैं। इसी तरह नंदनमारा में 3, गांव अर्जुनी में 2, अंजनी में 2, पुसवाड़ा में 4, पुसावड़ में 2 पोल कंडम हो चुके हैं।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Villages become old pillars, the department is not changing

Powered by WPeMatico

%d bloggers like this: