Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors. Please consider supporting us by whitelisting our website.

18 वर्षीय वंदना ने दो घंटे के लिए मुख्यमंत्री का ट्विटर हैंडल संभाला, वे लड़कियों को लैंगिक समानता और पीरियड्स के दौरान हाइजीन का महत्व बताती हैं


असम की 18 वर्षीय वंदना उरंग ने बाल दिवस के अवसर पर दो घंटे के लिए असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल का आधिकारिक ट्विटर अकांउट चलाया। डिब्रूगढ़ जिले के नामरूप प्रांत की वंदना उरंग बीए फर्स्ट सेमेस्टर की स्टूडेंट हैं। उन्होंने सुबह 9 से 11 बजे तक मुख्यमंत्री के ट्विटर अकाउंट को हैंडल किया। इस दौरान वंदना ने असम में कोरोना काल के बाद शिक्षा के क्षेत्र में होने वाले बदलावों को बयां किया।

वंदना ने नामरूप के प्राईमरी स्कूल से पढ़ाई की। फिलहाल वे यही के कॉलेज से ग्रेजुएशन कर रही हैं। वे मानती हैं कि आज भी ऐसे कई बच्चे हैं जिन्हें अपनी पढ़ाई पूरी करने का मौका नहीं मिलता। उन्हें लगता है कि बच्चों के विकास में स्कूल का माहौल खास भूमिका निभा सकता है। इससे बच्चों को अपनी पढ़ाई पूरी करने का प्रोत्साहन मिलता है।

उनका कहना है कि अब जब असम के स्कूल और कॉलेज फिर से खुल गए है तो मुझे आशा है कि हम बच्चों की शिक्षा पर ध्यान केंद्रित करेंगे ताकि कोई भी अशिक्षित न रहे। वंदना मुस्कान एडोलेसेंट गर्ल्स ग्रुप की सदस्य हैं जहां वे अन्य सदस्यों के साथ मिलकर लड़कियों को लैंगिक समानता और पीरियड्स के दौरान हाइजीन का महत्व बताती हैं।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Vandana Urang of Assam took over Twitter handle of Chief Minister for two hours on Children’s Day, she wants to promote child education through her efforts

Powered by WPeMatico

%d bloggers like this: