हमारा संवैधानिक संघीय ढांचा अनेकता में एकता की गारंटी है: मुख्तार नकवी

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने शुक्रवार को यहाँ कहा कि हमारा संवैधानिक संघीय ढांचा “अनेकता में एकता” की गारंटी है। उन्होंने कहा कि जिस तरह से मौलिक अधिकारों के…

नरेंद्र मोदी और अमित शाह के बीच मनमुटाव हो चुका है, जिससे देश पिस रहा : भूपेश बघेल

रायपुर. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सीएए, एनआरसी और एनपीए को लेकर एक बार फिर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में बैठी सरकार लोगों को ताेड़ने का काम कर रही है। पिछला 5 साल मोदी का समय था। ये जो 7 महीने बीते हैं अमित शाह के हैं। दोनों मिलकर हिंदुस्तान के लोगों को अंग्रेजी सिखा रहे हैं। अमित शाह और मोदी के बीच मनमुटाव हो चुका है, जिससे देश पिस रहा है। एक कुछ और कहता है, दूसरा कुछ और। मुख्यमंत्री बघेल शुक्रवार को नवनिर्वाचित जन प्रतिनिधयों के सम्मान समारोह में बोल रहे थे।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
रायपुर के इनडोर स्टेडियम में हो रहे नवनिर्वाचित जनप्रतिनिधियों के सम्मान समारोह में परंपरागत खुमरी टोपी लगाए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू, टीएस सिंहदेव, पीएल पुनिया व अन्य मंत्री।

वॉट्सऐप की पैरेंट कंपनी फेसबुक ने किया फैसला, चैट के बीच नहीं दिखाई जाएंगे विज्ञापन

गैजेट डेस्क. वॉट्सऐप यूजर्स के लिए एक अच्छी खबर है। वॉट्सऐप की पैरेंट कंपनी फेसबुक ने फैसला लिया है कि फिलहाल वॉट्सऐप पर किसी भी तरह के विज्ञापन नहीं दिखाए जाएंगे। द वॉल स्ट्रीट ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि कंपनी ने पिछले दिनों उस टीम को भी बैनकर दिया है जिसे ऐप में विज्ञापन सेवा जोड़ने के लिए तैयार कियागया था। इसके अलावा फेसबुक ने उस कोड को भी डिलीट कर दिया है जिसे टीम द्वारा तैयार किया था। हालांकि फेसबुक ने फिलहाल इसे लेकर कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया है।

रिपोर्ट के मुताबिक, वर्तमान में वॉट्सऐप जिस मॉडल पर काम कर रहा है उसस कंपनी की कोई खास कमाई नहीं होती है। इसलिए इंस्टाग्राम के तर्ज पर फेसबुक के सीईओ जकरबर्ग ने वॉट्सऐप चैट के बीच विज्ञापन दिखाने का फैसला लिया। जकरबर्ग से इसी विवाद के चलते साल 2017 में वॉट्सऐप के को-फाउंडर एक्टन और अगस्त में सीईओ जान कूम ने कंपनी छोड़ने का फैसला लिया क्योंकि दोनों नहीं चाहते थे कि वॉट्सऐप चैट के बीच विज्ञापन दिखाई दें।

फेसबुक सीईओ जकरबर्ग ने इस हाल ही में दिय बयान में बताया था कि 2020 के आखिरी तक फेसबुक, वॉट्सऐप और इंस्टाग्राम तीनो ही प्लेटफॉर्म्स को एक साथ इंटिग्रेट कर दिया जाएगा। ऐसा करने के बाद यूजर्स इन तीनों ही प्लेटफॉर्म्स पर मैसेज कर सकेंगे। फेसबुक ने 2014 में वॉट्सऐप को 1,56,276 करोड़ रुपए में खरीदा है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
WhatsApp’s parent company Facebook decided, ads will not be shown between chats

चीन की जीडीपी ग्रोथ 2019 में 6.1% रही, यह 29 साल में सबसे कम; 1.5 ट्रिलियन डॉलर का कारोबार प्रभावित

बीजिंग. चीन कीजीडीपी ग्रोथ 2019 में 6.1% रह गई।यह 29 साल में सबसे कम है। चीन की सरकार ने शुक्रवार को कहा- कमजोर घरेलू मांग और अमेरिका के साथ 18 महीने तक चले ट्रेड वॉर की वजह से अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचा। 2019 में दुनिया की दूसरी सबसे अर्थव्यवस्था चीन की विकास दर 1990 के बाद सबसे कम रही। अमेरिका के साथ ट्रेडवॉर और घटते निर्यात की वजह से 2018 में चीन की अर्थव्यवस्था 28 साल के निचले स्तर 6.6% पर पहुंची थी। इससे पहले 2017 में विकास दर 6.8% रही थी।

बुधवार को चीन और अमेरिका ने पिछले 18 महीने से जारी ट्रेड वॉर को थामने के लिए पहले चरण के समझौते पर हस्ताक्षर किए थे। इसके एक दिन बाद (गुरुवार) चीन के नेशनल ब्यूरो ऑफ स्टैटिस्टिक्स (एनबीएस) ने कहा था कि पिछले डेढ़ साल में अमेरिका और चीन ने एक-दूसरे के निर्यात पर 25% कर लगाया, जिससे दोनों देशों के बीच 1.5 ट्रिलियन डॉलर के व्यापार पर असर पड़ा।

विकास दर सरकारी अनुमान के मुताबिक
एनबीएस ने कहा कि देश की जीडीपी ग्रोथ6.1% रही, यह सरकार द्वारा निर्धारित 6-6.5% के निर्धारित लक्ष्य के भीतर है। चीन की सरकार के लिए राहत की बात यह रही कि अर्थव्यवस्था का आकार 2018 में13.1 ट्रिलियन डॉलर से बढ़कर, 2019 में 14.38 ट्रिलियन डॉलर हो गया।

राष्ट्रपति ने 6% से कम विकास दर को गंभीर कहा था
जीडीपी ग्रोथ मनोवैज्ञानिक तौर पर अहम समझे जाने वाले 6% के स्तरसे ऊपर है। चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कहा था कि जीडीपी ग्रोथ 6% से नीचे नहीं जानीचाहिए, अन्यथा यह दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के लिए गंभीर संकट हो सकता है।

समझौते के बावजूद चीनी सामान पर कर बरकरार
अमेरिका की तरफ से भारी कर लगा दिए जाने से चीनी अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचा था। बुधवार को ट्रेड वॉर रोकने के लिए पहले चरण के समझौते पर हस्ताक्षर करने के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा था कि अमेरिका दूसरे चरण का समझौता होने तक 360 बिलियन डॉलर मूल्य के चीनी उत्पादों पर 25 प्रतिशत टैरिफ जारी रहेगा।

यह केवल अंतरिम समझौता: अर्थशास्त्री
अर्थशास्त्री और नैटिक्सिस की एशिया प्रशांत प्रभारी एलिसिया गार्सिया हेरेरो ने स्थानीय अखबार को बताया- दोनों देशों के बीच पहले चरण का समझौता अंतरिम है और दूसरे चरण के समझौते तक चीनी माल को टैरिफ की मार झेलनी पड़ेगी। इस द्विपक्षीय समझौते के विवाद निवारण चैप्टर में यह प्रावधान है कि अगर कोई एक पक्ष इससे संतुष्ट न हो, तो वह इसमें संशोधन कर सकता है या समझौता तोड़ भी सकता है।

2020 तक नागरिकों की आमदनी दोगुनी करने का लक्ष्य
एनबीएस के आंकड़ों के अनुसार, चीन की प्रति व्यक्ति डिस्पोजेबल आय 2019 में 30,733 युआन (4,461.95 अमेरिकी डॉलर) थी, जो पिछले साल से 5.8% ज्यादा थी। वहीं, चीन में प्रति व्यक्ति उपभोक्ता खर्च में 5.5% की बढ़ोतरी दर्ज की गई। 2019 में यह 21,559 युआन तक पहुंच गया। मूल्य आधारित औद्योगिक उत्पादन सूचकांक ने 2019 में 5.7% की दर से प्रगति की, जो 2018 के 6.2% से कम रहा। वहीं, दिसंबर में फिक्स्ड-एसेट इनवेस्टमेंट (एफएआई) में 5.4% की बढ़त दर्ज हुई, जो साल के पहले 11 महीनों में से 0.2% ज्यादा रहा।चीन ने 2010 के मुकाबले 2020 तक अपने ग्रामीण और शहरी नागरिकों की प्रति व्यक्ति आय को दोगुना करने का लक्ष्य तय किया है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
चीन ने प्रति व्यक्ति आय 10 साल पहले के मुकाबले दोगुनी करने का लक्ष्य तय किया है।

नया डेथ वॉरंट: चारों दुष्कर्मियों को 1 फरवरी को सुबह 6 बजे फांसी होगी, राष्ट्रपति ने दोषी मुकेश की दया याचिका खारिज कर दी थी

नई दिल्ली. पटियाला हाउस कोर्ट ने शुक्रवार को निर्भया केस के दोषियों के लिए नया डेथ वॉरंट जारी कर दिया। इसके मुताबिक, चारों दोषियों को एक फरवरी सुबह 6 बजे फांसी दी जाएगी। इससे पहलेराष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने निर्भया के गुनहगार मुकेश कुमार की दया याचिका शुक्रवार को खारिज कर दी। दोषी मुकेश ने यह याचिका मंगलवार शाम को राष्ट्रपति को भेजी थी। इस मामले में बाकी दोषी अगर दया याचिका नहीं लगाते हैं तो 14 दिन बाद चारों दुष्कर्मियों को फांसी दी जा सकती है।7 जनवरी को पटियाला हाउस कोर्ट ने चारों दोषियों को 22 जनवरी को सुबह 7 बजे तिहाड़ जेल में फांसी देने का डेथ वॉरंट जारी कर दिया था। इस पर दिल्ली सरकार ने हाईकोर्ट को बताया था कि दया याचिका लंबित रहने तक किसी भी दोषी को फांसी नहीं दी जा सकती। इस बीच, दोषियों को फांसी में देरी पर निर्भया की मां आशा देवी ने पीड़ा जाहिर की। उन्होंने कहा- मेरी बच्ची की मौत के साथ लगातार खिलवाड़ किया जा रहा है।22 जनवरी को फांसी के आसार नहीं, क्योंकि जेल के नियमों के मुताबिक 14 दिन का वक्त जरूरीदोषी मुकेश की दया याचिका राष्ट्रपति से खारिज होने के बाद भी चारों दोषियों को डेथ वॉरंट में तय तारीख 22 जनवरी को फांसी नहीं होगी। इसकी 2 वजह हैं-1. दिल्ली प्रिजन मैनुअल के 837वें पॉइंट के मुताबिक, अगर एक ही मामले में एक से ज्यादा दोषियों को फांसी की सजा मिली है और इनमें से एक भी अपील करता है तो इस स्थिति में सभी दोषियों की फांसी पर तब तक रोक लगी रहेगी, जब तक अपील पर फैसला नहीं हो जाता।2. इस तरह अगर निर्भया के बाकी तीन दोषियों में से कोई एक दोषी भी दया याचिका लगाता है तो फांसी टलती रहेगी। अगर बाकी तीनों दोषी दया याचिका नहीं लगाते हैं तो आज से 14 दिन बाद चारों को फांसी पर चढ़ाया जा सकता है। सुप्रीम कोर्ट ने ऐसी स्थिति में दोषियों के लिए 14 दिन का वक्त तय किया है, जो दोषियों को दोस्तों-रिश्तेदारों से मिलने और जरूरी कामों को निपटाने के लिए मिलता है।निर्भया केस की मौजूदा स्थितिदो दोषियों मुकेश और विनय की क्यूरेटिव पिटीशन सुप्रीम कोर्ट ने 14 जनवरी को खारिज कर दी थी। दोषी मुकेश ने उसी दिन राष्ट्रपति के पास दया याचिका भेजी थी, जिसे राष्ट्रपति ने शुक्रवार को खारिज कर दिया। मुकेश ने डेथ वॉरंट रद्द करने की मांग करते हुए दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। हाईकोर्ट ने उसकी याचिका खारिज करते हुए निचली अदालत में अर्जी दायर करने को कहा था। दोषी ने निचली अदालत में अर्जी दायर कर दी, जिस पर जज ने तिहाड़ जेल प्रशासन से स्टेटस रिपोर्ट मांगी है।निर्भया की मां ने कहा- मेरी बच्ची की मौत के साथ मजाक मत होने दीजिएआशा देवी ने भावुक अपील में कहा, ‘‘जो लोग 2012 के बाद तिरंगा लेकर प्रदर्शन कर रहे थे, वे ही आज इस पर राजनीति कर रहे हैं। घटना के बाद लोगों ने काली पट्‌टी बांधी, नारे लगाए ,लेकिन आज यही लोग उस बच्ची की मौत के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। आज फांसी को रोका जा रहा है और राजनीति का खेल खेला जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2014 में कहा था कि बहुत हुआ नारी पर वार, अबकी बार मोदी सरकार। मैं आपसे हाथ जोड़कर कहना चाहती हूं कि जिस तरह आपने तीन तलाक हटाया, इस कानून में भी संशोधन कीजिए। एक बच्ची की मौत के साथ मजाक मत होने दीजिए। उन चारों मुजरिमों को 22 तारीख को फांसी पर लटकाइए।’’निर्भया के दोषी विनय ने जेल के टॉयलेट में फंदा लगाकर जान देने की कोशिश कीकड़ी सुरक्षा और सीसीटीवी कैमरे की निगरानी के बावजूद निर्भया के दोषी विनय शर्मा ने तिहाड़ जेल में फंदा लगाकर जान देने की कोशिश की। जेल सूत्रों और विनय के वकील एपी सिंह ने दावा किया कि यह घटना बुधवार सुबह की है। सुरक्षाकर्मियों ने समय रहते उसे बचा लिया। हालांकि, जेल महानिदेशक संदीप गोयल ने ऐसी किसी घटना से इनकार किया है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें Nirbhaya Rapists Death Warrant | Nirbhaya Rape Convict Mukesh Singh Mercy Petition Latest News and Updates On Rashtrapati Bhavan Over Delhi Gang Rape And Murder Case 2012

भाजपा की पहली सूची जारी: 57 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा, 4 महिलाओं को टिकट

नई दिल्ली. भाजपा ने शुक्रवार को 70 विधानसभा सीटों में से 57 पर प्रत्याशियों के नाम की घोषणा कर दी। करावल नगर से आप के मौजूदा विधायक कपिल मिश्रा को मॉडल टाउन से टिकट दिया गया है। नई दिल्ली सीट पर अरविंद केजरीवाल के खिलाफ प्रत्याशी की घोषणा अभी नहीं की गई है।दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने बताया कि बचे हुए प्रत्याशियों के नाम की घोषणा बहुत जल्द की जाएगी। प्रत्याशियों नाम गुरुवार को भाजपा की केंद्रीय चुनाव समिति की देर रात तक चली बैठक में तय किए गए। आम आदमी पार्टी (आप) पहले ही सभी सीटों पर उम्मीदवार तय कर चुकी है। दिल्ली में 8 फरवरी को वोट डाले जाएंगे। नतीजे 11 तारीख को आएंगे।उम्मीदवारों की लिस्टविधानसभा सीट उम्मीदवार नरेला नील दमन खत्री तिमारपुर सुरेंद्र सिंह बिट्टू आदर्श नगर राजकुमार भाटिया बादली विजय भगत रिठाला मनीष चौधरी बवाना रवींद्र कुमार मुंडका आजाद सिंह किराड़ी अनिल झा सुल्तानपुर माजरा रामचंद्र छाबड़िया मंगोलपुरी करम सिंह कर्मा रोहिणी विजेंद्र गुप्ता शालीमार बाग रेखा गुप्ता शकूर बस्ती एचसी वत्स त्रिनगर तिलक राम गुप्ता वजीरपुर महेंद्र नागपाल मॉडल टाउन कपिल मिश्रा सदर बजार जय प्रकाश चांदनी चौक सुमन कुमार गुप्ता मटिया महल रवींद्र गुप्ता बल्लीमारान लता सोढ़ी करोल बाग योगेंद्र चंदोलिया पटेल नगर परवेश रतन मोती नगर सुुभाष सचदेवा मादिपुर कैलाश सांकला तिलक नगर राजीव बब्बर जनकपुरी आशीष सूद़ विकासपुरी संजय सिंह उत्तम नगर कृष्ण गहलोत द्वारका प्रद्युम्न राजपूत मटियाला राजेश गहलोत नजफगढ़ अजीत खरखरी बिजवासन सतप्रकाश राणा पालम विजय पंडित राजेंद्र नगर आरपी सिंह जंगपुरा इमरित सिंह बख्शी मालवीय नगर शैलेंद्र सिंह मोंटी आरके पुरम अनिल शर्मा छतरपुर ब्रह्म सिंह तंवर देवली अरविंद कुमार अंबेडकर नगर खुशीराम ग्रेटर कैलाश शिखा राय तुगलकाबाद विक्रम विधूड़ी बदरपुर रामवीर सिंह विधूड़ी ओखला ब्रह्म सिंह त्रिलोकपुरी किरण वैद्य कोंडली राजकुमार ढिल्लों पटपड़गंज रवि नेगी लक्ष्मी नगर अभय कुमार वर्मा विश्वास नगर ओपी शर्मा गांधी नगर अनिल बाजपेयी रोहतास नगर जितेंद्र महाजन सीलमपुर कौशल मिश्रा घोंडा अजय महावत बाबरपुर नरेश गौड़ गोकलपुर रंजीत कश्यप मुस्तफाबाद जगदीश प्रधान करावल नगर मोहन सिंह बिष्ट आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें भाजपा केंद्रीय चुनाव समिति ने गुरुवार शाम टिकटों को लेकर बैठक की थी।

यूएन ने भारत की जीडीपी ग्रोथ का अनुमान 7.6% से घटाकर 5.7% किया; 7वीं एजेंसी ने प्रोजेक्शन कम किया

नई दिल्ली. यूनाइटेड नेशंस (संयुक्त राष्ट्र) ने 2019-20 में भारत की जीडीपी ग्रोथ का अनुमान 7.6% से घटाकर 5.7% कर दिया है। यूएन ऐसी 7वीं संस्था है, जिसने भारत का ग्रोथ प्रोजेक्शन घटाया है। इससे पहले वर्ल्ड बैंक, आरबीआई, एसबीआई, एडीबी, मूडीज और नॉमूरा ने भी ग्रोथ प्रोजेक्शन कम किया था। हालांकि, यूएन का अनुमान सरकार और आरबीआई के 5% के अनुमान से 0.7% ज्यादा है। यूएन का प्रोजेक्शन ऐसे समय सामने आया है, जब चीन ने भी विकास दर के आंकड़े जारी किए हैं। अमेरिका से ट्रेड वॉर की वजह से चीन की ग्रोथ 2019 में 6.1% रही। यह 30 साल में सबसे कम है। फिर भी भारत की अनुमानित ग्रोथ से 1.1% ज्यादा है।

जीडीपी ग्रोथ में गिरावट की 3 वजह
1. ऑटो सेक्टर: इस सेक्टर में पिछले साल मंदी छाई रही। गाड़ियों की बिक्री में 19 साल की सबसे तेज गिरावट दर्ज की गई। देश की जीडीपी में ऑटो इंडस्ट्री का 7% और मैन्युफैक्चरिंग जीडीपी में 49% शेयर है।
2. आईआईपी: सितंबर में कॉर्पोरेट टैक्स में कटौती जैसे बड़े कदम के बावजूद देश में औद्योगिक गतिविधियों में सुस्ती बनी हुई है। अगस्त, सितंबर और अक्टूबर में इंडेक्स ऑफ इंडस्ट्रियल प्रोडक्शन (आईआईपी) में लगातार गिरावट दर्ज की गई। सितंबर में आईआईपी 4.3% घट गया। यह 8 साल में सबसे तेज गिरावट थी। अक्टूबर में 3.8% कमी आई। हालांकि, मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर की गतिविधियों में सुधार की वजह से नवंबर में औद्योगिक उत्पादन में 1.8% तेजी आई।
3. एनबीएफसी: अर्थशास्त्रियों के मुताबिक, जीडीपी ग्रोथ में गिरावट की एक वजह नॉन बैंकिंग फाइनेंस कंपनियों (एनबीएफसी) का नकदी संकट भी है।

इकोनॉमी के 3 अन्य इंडिकेटर: देश में महंगाई बढ़ रही, रोजगार घट रहे, लेकिन शेयर बाजार में उछाल
1. खुदरा महंगाई दर साढ़े पांच साल में सबसे ज्यादा
दिसंबर में खुदरा महंगाई दर 7.35% रही। यह जुलाई 2014 के बाद सबसे ज्यादा है। सब्जियों खासकर प्याज की कीमतों में बढ़ोतरी की वजह से दिसंबर में महंगाई दर ज्यादा प्रभावित हुई। सब्जियां दिसंबर में 60.5% महंगी हुईं। दालों की कीमतों में 15.44% इजाफा हुआ।

2. बेरोजगारी दर 45 साल में सबसे ज्यादा, इस साल 16 लाख रोजगार घटेंगे
एसबीआई की रिसर्च रिपोर्ट ईकोरैप में यह आशंका जताई गई है। इसके मुताबिक 2018-19 में देश में 89.7 लाख रोजगार बढ़े, लेकिन 2019-20 में इस आंकड़े में 15.8 लाख की कमी आ सकती है। ईपीएफओ के आंकड़ों में 15,000 रुपए तक वेतन वाले काम शामिल होते हैं। आर्थिक मामलों पर रिसर्च करने वाली संस्था सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी के मुताबिक, 13 जनवरी 2020 की स्थिति के अनुसार देश में बेरोजगारी दर 7.6% है। सरकार ने भी एनएसएसओ की रिपोर्ट में कहा था कि बेरोजगारी दर 2017-18 में 6.1% थी। यह 45 साल में सबसे ज्यादा है।

3. शेयर बाजार रिकॉर्ड स्तर पर
सेंसेक्स पहली बार 42,000 के ऊपर है। पिछले दिनों कुछ बड़ी गिरावटों के बावजूद सेंसेक्स बीते डेढ़ महीने में 1000 अंक के फायदे में रहा है। 27 नवंबर को 41000 पर था। विश्लेषकों के मुताबिक, विदेशी निवेशकों की खरीदारी से बाजार में तेजी आ रही है। इस महीने विदेशी निवेशकों ने अब तक करीब 524 करोड़ रुपए का नेट इन्वेस्टमेंट किया है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
India GDP Growth Rate 2020 | United Nation (UN) WESP On India India GDP Growth Rate, Indian Economy Latest News and Updates; India’s GDP growth from 7.6 Percent to 5.7 Percent

अमेरिकी अफसर ने कहा- ईरान में हमले के बाद 11 सैनिकों में दिमागी चोट के लक्षण सामने आए

बगदाद. इराक में 8 जनवरी को ईरान ने अमेरिकी सैन्य बेसों पर मिसाइल हमला किया था। इसमें 11 सैनिकों को सिर पर गंभीर चोटेंआई हैं। एक अधिकारी ने दावा किया है कि यह ब्रेन इंजरी हो सकती है। घायल जवानों को पिछले 24 से 36 घंटे में इराक के बाहर भेजा गया है। एक अधिकारी के मुताबिक, 8 सैनिक आगे जांच के लिए जर्मनी के लैंडस्टुलऔर 3 जवान कुवैत भेजे गए।

ईरान ने जनरल कासिम सुलेमानी की हत्या लेने के लिए 8 जनवरी की सुबह इराक के अनबर प्रांत में स्थित ऐन अल-असद बेस और इरबिल में एक ग्रीन जोन (अमेरिकी सैन्य ठिकानों) पर 22 बैलिस्टिक मिसाइलें दागीं थी। हमले के बाद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि उनका किसी सैनिक की जान नहीं गई। हालांकि, उन्होंने घायलों की संख्या का जिक्र नहीं किया था।अमेरिका के सेंट्रल कमांड के प्रवक्ता कैप्टन बिल अर्बन ने शुक्रवार कोकहा कि हमले के बाद 11 सैनिकों मेंकॉनकशन के लक्षण पाए गए। अभी भी उनकी जांच जारी है।

हमले के एक दिन बाद हुई सैनिकों को समस्या

सैनिकों में काॅनकशन के लक्षणहमले के एक दिन बाद मेडिकल जांच के बाद सामने आए। इनमें से 8 सैनिकोंको आगे की जांच के लिए जर्मनी और 3 को कुवैत भेजा गया है। हमले के तुरंत बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ट्वीट कर सबकुछ ठीक होने की बात कही थी। उन्होंने कहा था कि हमारे पास दुनिया की सबसे शक्तिशाली और सैन्य उपकरणों से लैस सेना है।


क्या है कॉन्कशन के लक्षण?
कॉन्कशन का मतलब है सिर पर चोट। आम तौर पर इसका प्रभाव कम देरी के लिए होता है। इसमें सिर दर्द और कुछ देर के लिए यादाश्त जाने ,शरीर के संतुलन पर प्रभाव पड़ने जैसी शिकायतें हो सकती हैं। सिर में या शरीर के ऊपरी हिस्से में चोट लगने के कारण इसके लक्षण सामने आते हैं। कई बार इंसान को इसके लक्षण आने-जाने का पता नहीं चलता।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
ईरान ने 8 जनवरी की सुबह  इराक के अनबर प्रांत में स्थित ऐन अल-असद बेस पर 22 मिसाइलें दागी थी।

नॉइस शॉट्स XO ईयरफोन लॉन्च, 5499 रु. है कीमत, भारी बारीश में भी काम करेगा

गैजेट डेस्क. ऑडियो इक्विपमेंट बनाने वाली कंपनी नॉइस ने भारतीय बाजार में अपने ट्रूली वायरलेस ईयरफोन नॉइस शॉट्स XO लॉन्च कर दिए हैं। ईयरफोन की कीमत 5,499 रुपए है यह कंपनी के अबतक के सबसे एडवांस्ड ट्रू वायरलेस हेडफोन है। इसमें चार्जिंग में कई बड़े बदलाव किए गए हैं। नए चार्जिंग केस को राउंड शेप में डिजाइन किया गया है जो मैटेलिक व्हाइट, रोज गोल्ड और स्पेस ग्रे जैसे तीन कलर ऑप्शन में अवेलेबल है। इसकी बिक्री शुरू हो चुकी है। इन्हें अमेजन, फ्लिपकार्ट, कंपनी की ऑफिशियल वेबसाइट और ऑनलाइन स्टोर समेत चुनिंदा ऑफलाइन रिटेल स्टोर्स से खरीदा जा सकेगा।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Noise Shots XO Earphones Launched, Rs 5499 Is price, will work even in heavy rain
Noise Shots XO Earphones Launched, Rs 5499 Is price, will work even in heavy rain
Noise Shots XO Earphones Launched, Rs 5499 Is price, will work even in heavy rain
Noise Shots XO Earphones Launched, Rs 5499 Is price, will work even in heavy rain

निर्भया के पिता को केजरीवाल का जवाब, बोले- दोषियों को सजा दिलाने में हमने जरा भी देर नहीं लगाई

निर्भया के दोषियों को फांसी में हो रही देरी को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि दिल्ली सरकार के अधीन आने वाले…

आतंकरोधी कोर्ट ने 87 लोगों को 4785 साल की सजा सुनाई, आरोपियों की चल-अचल संपत्ति जब्त करने का भी आदेश

इस्लामाबाद.पाकिस्तान के आतंकरोधीकोर्ट (एटीसी) ने तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान(टीएलपी) पार्टी पर बड़ी कार्रवाई की है। कोर्ट ने टीएलपी प्रमुख खादिम हुसैन रिजवी के भाई और भतीजे समेत पार्टी के 87 कार्यकर्ताओं को कुल मिलाकर 4785साल की सजा सुनाई और 11 करोड़ 74 लाख रुपए का जुर्माना लगाया। रावलपिंडी एटीसी कोर्ट के जज शौकत कमाल डार ने गुरुवार देर रात यह आदेश जारी किया। कोर्ट ने सभी आरोपियों की चल-अचल संपत्ति जब्त करने का भी निर्देश दिया।

पुलिस ने 18 नवम्बर 2018 को टीएलपी प्रमुख खादिम हुसैन रिजवी, उनके भाई आमीर हुसैन रिजवी और भतीजे मोहम्मद अली समेत 87 अन्य धार्मिक कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया। ये सभी अशांति फैलाने के आरोप में हिरासत में लिए गए थे।

सभी आरोपीपर 1लाख 35 हजार रुपए का जुर्माना लगाया

एटीसी कोर्ट ने सभी आरोपियों को 55 साल की सजा सुनाई। हर एक पर 1 लाख 35 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है। जुर्माना नहीं भरने पर इन सभी की सजा 146 साल बढ़ जाएगी। सजा सुनाते वक्त रावलपिंडी एटीसी कोर्ट में भारी सुरक्षा व्यवस्था की गई थी। पुलिस, एलिट फोर्ट और विशेष शाखा के अधिकारियों को तैनात किया गया था। कोर्ट की कार्यवाही समाप्त होने के बाद आरोपियों को तीन बसों में भरकर अटक जेल ले जाया गया।

टीएलपी ने नवम्बर 2018 में पाकिस्तान भर में प्रदर्शन किया था

टीएलपी ने नवम्बर 2018 में अन्य पार्टियों के साथ मिलकर पाकिस्तान के विभिन्न शहरों में धरना दिया था। ये प्रदर्शन ईशनिंदा के झूठे आरोप में 8 साल जेल में काटने वाली इसाई महिला आसिया बीवी को रिहा करने करने के निर्णय के विरोध में हुए थे। इस दौरान उग्र प्रदर्शनकारियों ने सरकारी संपत्तियों को नुकसान पहुंचाया था और रिक्शा, कार और ट्रकों में आग लगाई थी। सरकार और धार्मिक पार्टियों के बीच 4 बिंदुओं पर समझौता होने के बाद विरोध समाप्त हुआ था।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान (टीएलपी) पार्टी ने नवम्बर 2018 मे पूरे पाकिस्तान में हिंसक प्रदर्शन किया था।

यूएन ने भारत की जीडीपी ग्रोथ का अनुमान 7.6% से घटाकर 5.7% किया; 7वीं एजेंसी ने प्रोजेक्शन कम किया

नई दिल्ली. यूनाइटेड नेशंस (संयुक्त राष्ट्र) ने 2019-20 में भारत की जीडीपी ग्रोथ का अनुमान 7.6% से घटाकर 5.7% कर दिया है। यूएन ऐसी 7वीं संस्था है, जिसने भारत का ग्रोथ प्रोजेक्शन घटाया है। इससे पहले वर्ल्ड बैंक, आरबीआई, एसबीआई, एडीबी, मूडीज और नॉमूरा ने भी ग्रोथ प्रोजेक्शन कम किया था। हालांकि, यूएन का अनुमान सरकार और आरबीआई के 5% के अनुमान से 0.7% ज्यादा है। यूएन का प्रोजेक्शन ऐसे समय सामने आया है, जब चीन ने भी विकास दर के आंकड़े जारी किए हैं। अमेरिका से ट्रेड वॉर की वजह से चीन की ग्रोथ 2019 में 6.1% रही। यह 30 साल में सबसे कम है। फिर भी भारत की अनुमानित ग्रोथ से 1.1% ज्यादा है।जीडीपी ग्रोथ में गिरावट की 3 वजह1. ऑटो सेक्टर: इस सेक्टर में पिछले साल मंदी छाई रही। गाड़ियों की बिक्री में 19 साल की सबसे तेज गिरावट दर्ज की गई। देश की जीडीपी में ऑटो इंडस्ट्री का 7% और मैन्युफैक्चरिंग जीडीपी में 49% शेयर है।2. आईआईपी: सितंबर में कॉर्पोरेट टैक्स में कटौती जैसे बड़े कदम के बावजूद देश में औद्योगिक गतिविधियों में सुस्ती बनी हुई है। अगस्त, सितंबर और अक्टूबर में इंडेक्स ऑफ इंडस्ट्रियल प्रोडक्शन (आईआईपी) में लगातार गिरावट दर्ज की गई। सितंबर में आईआईपी 4.3% घट गया। यह 8 साल में सबसे तेज गिरावट थी। अक्टूबर में 3.8% कमी आई। हालांकि, मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर की गतिविधियों में सुधार की वजह से नवंबर में औद्योगिक उत्पादन में 1.8% तेजी आई।3. एनबीएफसी: अर्थशास्त्रियों के मुताबिक जीडीपी ग्रोथ में गिरावट की एक वजह नॉन बैंकिंग फाइनेंस कंपनियों (एनबीएफसी) का नकदी संकट भी है।इकोनॉमी के 3 अन्य इंडिकेटर: देश में महंगाई बढ़ रही, रोजगार घट रहे, लेकिन शेयर बाजार में उछाल1. खुदरा महंगाई दर साढ़े पांच साल में सबसे ज्यादादिसंबर में खुदरा महंगाई दर 7.35% रही। यह जुलाई 2014 के बाद सबसे ज्यादा है। सब्जियों खासकर प्याज की कीमतों में बढ़ोतरी की वजह से दिसंबर में महंगाई दर ज्यादा प्रभावित हुई। सब्जियां दिसंबर में 60.5% महंगी हुईं। दालों की कीमतों में 15.44% इजाफा हुआ।2. बेरोजगारी दर 45 साल में सबसे ज्यादा, इस साल 16 लाख रोजगार घटेंगेएसबीआई की रिसर्च रिपोर्ट ईकोरैप में यह आशंका जताई गई है। इसके मुताबिक 2018-19 में देश में 89.7 लाख रोजगार बढ़े, लेकिन 2019-20 में इस आंकड़े में 15.8 लाख की कमी आ सकती है। ईपीएफओ के आंकड़ों में 15,000 रुपए तक वेतन वाले काम शामिल होते हैं। आर्थिक मामलों पर रिसर्च करने वाली संस्था सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी के मुताबिक 13 जनवरी 2020 की स्थिति के अनुसार देश में बेरोजगारी दर 7.6% है। सरकार ने भी एनएसएसओ की रिपोर्ट में कहा था कि बेरोजगारी दर 2017-18 में 6.1% थी। यह 45 साल में सबसे ज्यादा है।3. शेयर बाजार रिकॉर्ड स्तर परसेंसेक्स पहली बार 42,000 के ऊपर है। पिछले दिनों कुछ बड़ी गिरावटों के बावजूद सेंसेक्स बीते डेढ़ महीने में 1000 अंक के फायदे में रहा है। 27 नवंबर को 41000 पर था। विश्लेषकों के मुताबिक विदेशी निवेशकों की खरीदारी से बाजार में तेजी आ रही है। इस महीने विदेशी निवेशकों ने अब तक करीब 524 करोड़ रुपए का नेट इन्वेस्टमेंट किया है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें India GDP Growth Rate 2020 | United Nation (UN) WESP On India India GDP Growth Rate, Indian Economy Latest News and Updates; India’s GDP growth from 7.6 Percent to 5.7 Percent

राहुल ने कहा- एनआईए प्रमुख दूसरे मोदी, निलंबित डीएसपी का मामला उन्हें सौंपने से मामला रफा-दफा हो जाएगा

नई दिल्ली. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर पुलिस के निलंबित डीएसपी देविंदर सिंह के आतंकी कनेक्शन की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को सौंपेने के मामले में मोदी सरकार पर निशाना साधा। राहुल ने कहा- आंतकवादी डीएसपी देविंदर को चुप कराने का सबसे अच्छा तरीका इस मामले की जांच एनआईए को सौंपना है।राहुल गांधी ने लिखा, “एनआई के प्रमुख एक दूसरे मोदी (योगेश चंदर मोदी) हैं। उन्होंने गुजरात दंगों और हरेन पंड्या की हत्या की जांच की। उनकी निगरानी में जांच कराना, मामले को ठंडे बस्ते में डालने के अलावा कुछ नहीं है।”सरकार की खामोशी पर सवालगुरुवार को राहुल गांधी ने सवाल किया था कि निलंबित डीएसपी देविंदर सिंह के मामले पर प्रधानमंत्री-गृह मंत्री और एनएसए खामोश क्यों हैं? पुलवामा हमले में दविंदर सिंह की क्या भूमिका थी? उसने और कितने आतंकवादियों की मदद की? उसे कौन संरक्षण दे रहा था और क्यों दे रहा था?DSP Davinder Singh sheltered 3 terrorists with 🇮🇳 blood on their hands at his home & was caught ferrying them to Delhi.He must be tried by a fast track court within 6 months & if guilty, given the harshest possible sentence for treason against 🇮🇳.#TerroristDavinderCoverUp pic.twitter.com/gc2BlhBOwM— Rahul Gandhi (@RahulGandhi) January 16, 2020 राहुल ने ट्वीट किया- निलंबित डीएसपी सिंह ने अपने घर में 3 ऐसे आतंकियों को पनाह दी, जिनके हाथ भारतीयों के खून से रंगे हैं। वह आतंकियों को दिल्ली ले जाते हुए पकड़ा गया। उसके खिलाफ फास्ट ट्रेक कोर्ट में केस चलाकर 6 महीने में फैसला आना चाहिए। अगर वह दोषी पाया जाता है, तो देशद्रोह के लिए उसे कड़ी सजा मिलनी चाहिए।आतंकियों के साथ पकड़ाया था निलंबित डीएसपीजम्मू-कश्मीर पुलिस का निलंबित डीएसपी देविंदर सिंह रविवार को हिजबुल मुजाहिदीन के दो आतंकियों के साथ पकड़ाया था। फिलहाल देविंदर पुलिस हिरासत में है। सरकार ने इस मामले की जांच एनआईए को सौंपने का फैसला किया है। देविंदर का करियर शुरू से विवादों में रहा है। संसद पर हमले के मास्टरमाइंड रहे अफजल गुरू की चिठ्ठी में भी उसका नाम था। कई बार उसका नाम गैर-कानूनी गतिविधियों में भी आया, लेकिन आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई करने की वजह से उस पर कोई जांच नहीं की गई। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें राहुल गांधी ने ट्विटर पर निलंबित डीएसपी मामले में सरकार पर निशाना साधा।

39 साल के पिता ने नाबालिग बेटी से महीनों तक दुष्कर्म किया, उसे पत्नी बनाना चाहता था

चंडीगढ़.16 साल की लड़की की जो आपबीती हम तक पहुंची, उसे पढ़कर घृणा, दुख और शर्म की स्थिति से आप न गुजरें, इसलिए हमने उसे न छापने का निर्णय लिया। पत्रकारिता धर्म को निभाते हुए सिर्फ जानकारी दे रहे हैं कि चंडीगढ़ के 39 वर्षीय व्यक्ति ने अपनी ही सगी बेटी के साथ महीनों तक न केवल दुष्कर्म किया, बल्कि इस पवित्र रिश्ते को कलंकित करते हुए उसे पत्नी बनाने के पाप पर भी उतर आया।पांच बच्चों के इस कुकर्मी पिता की शिकायत पीड़ितने अपनी मां और बुआ की मदद से चाइल्ड हेल्पलाइन में दर्ज कराई। आरोपी को 376, 506 और पाॅक्सो एक्ट की धारा 4 और 6 के तहत केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है। जांच में पता चला कि बेटी चार महीने की गर्भवती है। इस पापाकी दरिंदगी की कई करतूतें हैं, जिन्हें हम नहीं छाप रहे हैं।चंडीगढ़ भास्कर के आज के अंक में इस खबर को इस तरह प्रकाशित किया गया है।आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें The 39-year-old father raped the minor daughter for months, stigmatizing relationships and wanted to make her a wife

धवन ने लगातार दूसरे मैच में अर्धशतक लगाया, रोहित को जम्पा ने पवेलियन भेजा

खेल डेस्क. भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन वनडे की सीरीज का दूसरा मुकाबला शुक्रवार को राजकोट के सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में खेला जा रहा है। भारत के शिखर धवन और विराट कोहली क्रीज पर हैं। धवन ने लगातार दूसरे मैच में अर्धशतक लगाया। उन्होंने मुंबई में 74 रन की पारी खेली थी। धवन का वनडे में यह 29वां अर्धशतक है।इससे पहले ओपनर रोहित शर्मा 42 रन बनाकर आउट हो गए। उन्हें एडम जम्पा ने एलबीडब्ल्यू आउट किया।रोहित-धवन के बीच पहले विकेट के लिए 70 से ज्यादा रन की साझेदारी हुई थी।भारत ने टीम में दो बदलाव किएइससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया। ऑस्ट्रेलिया नेप्लेइंग इलेवन में कोई बदलाव नहीं किया। वहीं, भारत ने ऋषभ पंत की जगह मनीष पांडेय और शार्दुल ठाकुर की जगह नवदीप सैनी को टीम में शामिल किया। लोकेश राहुल विकेटकीपिंग करेंगे।पंत की जगह केएस भरत भारतीय दल में शामिलचोटिल विकेटकीपर ऋषभ पंत इस मैच में नहीं खेल रहे। उनकी जगह आंध्र प्रदेश के विकेटकीपर केएस भरत को टीम में शामिल किया गया, लेकिन वे प्लेइंग इलेवन में नहीं हैं।पहले वनडे में तेज गेंजबाज पैट कमिंस की गेंद पंत के हेलमेट पर लगी थी। वे बेंगलुरु में नेशनल क्रिकेट एकेडमी में रिहैबिलिटेशन के लिए गए हैं।दोनों टीमेंभारत: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा (उप-कप्तान), शिखर धवन, लोकेश राहुल (विकेटकीपर), श्रेयस अय्यर, मनीष पांडेय, रविंद्र जडेजा, मोहम्मद शमी, नवदीप सैनी, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह।ऑस्ट्रेलिया: एरॉन फिंच (कप्तान), डेविड वॉर्नर, मार्नश लबुशाने, स्टीव स्मिथ, एश्टन टर्नर, एलेक्स कैरी (विकेटकीपर), एश्टन एगर, पैट कमिंस, मिशेल स्टार्क, केन रिचर्डसन, एडम जम्पा।कोहली के पास पोंटिंग का रिकॉर्ड तोड़ने का मौकाविराट कोहली के पास बतौर कप्तान तीनों फॉर्मेट (वनडे, टेस्ट और टी-20) में सबसे ज्यादा शतक लगाने का मौका है। फिलहाल, कोहली 41 शतक लगाकर पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग के साथ शीर्ष पर हैं। ऑस्ट्रेलिया मुंबई वनडे 10 विकेट से जीतकर सीरीज में 1-0 से आगे है।विराट-पोंटिंगटी-20 में शतक नहीं लगा पाएकोहली ने बतौर कप्तान 53 टेस्ट में 20 और 80 वनडे में 21 शतक लगाए हैं। वे अब तक 27 टी-20 में एक भी शतक नहीं लगा पाए हैं।पोंटिंग ने 77 टेस्ट में 19 और 230 वनडे में 22 शतक ठोके हैं। वेभी 17 टी-20 में शतक नहीं जमा पाए थे।बतौर कप्तान तीनों फॉर्मेट में सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले टॉप 6 बल्लेबाजखिलाड़ी मैच पारी रन शतक देश विराट कोहली 170 197 11041 41 भारत रिकी पोंटिंग 324 376 15440 41 ऑस्ट्रेलिया ग्रीम स्मिथ 286 368 14878 33 द. अफ्रीका स्टीव स्मिथ 93 118 5885 20 ऑस्ट्रेलिया माइकल क्लार्क 139 171 7060 19 ऑस्ट्रेलिया ब्रायन लारा 172 204 8410 19 वेस्टइंडीज राजकोट में भारत अब तक वनडे नहीं जीतासौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में भारत ने अब तक दो वनडे खेले, जिनमें उसे हार मिली है। पिछला मैच भारत ने 18 अक्टूबर 2015 को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला था। यह मैच अफ्रीका ने 18 रन से जीता था। इससे पहले 11 जनवरी 2013 को इंग्लैंड ने भारतीय टीम पर 9 रन से जीत दर्ज की थी।हेड-टू-हेडदोनों टीमों के बीच अब तक हुए 138 वनडे में भारतीय टीम 50 में ही जीत सकी। ऑस्ट्रेलिया की टीम 78 में जीती। 10 मुकाबले बेनतीजा रहे। वहीं, भारत में दोनों के बीच अब तक 62 मैच हुए। इस दौरान टीम इंडिया 27 में जीती। 30 में हार का मिली। 5 मुकाबले बेनतीजा रहे। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें राजकोट वनडे में रोहित-धवन की जोड़ी। ऑस्ट्रेलिया ने मुंबई में पहले वनडे में भारत को 10 विकेट से हराया था।

जजों के लिए अपशब्द बोलने पर हाईकोर्ट चीफ जस्टिस ने वकीलों पर दिए एफआईआर दर्ज करने के आदेश

बिलासपुर. दुर्ग न्यायालय परिसर से फैमिली कोर्ट शिफ्टिंग विवाद के चलते वकील और न्यायाधीश आमने-सामने हो गए हैं। हड़ताली वकीलों का जजों के लिए अपशब्दों का इस्तेमाल करना भारी पड़ता नजर आ रहा है। दुर्ग जिला न्यायाधीश गोविंद मिश्रा के पत्र काे संज्ञान में लेते हुए शुक्रवार को बिलासपुर हाईकोर्ट चीफ जस्टिस ने दोषियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के आदेश दे दिए हैं। इसके लिए राज्य शासन को निर्देश दिया गया है। साथ ही चीफ जस्टिस ने कहा है कि दुर्ग मजिस्ट्रेट आरोपी वकीलों को जमानत नहीं दे सकेंगे। जमानत मामलों की सुनवाई चीफ जस्टिस की बेंचमें होगी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
बिलासपुर हाईकोर्ट

भारत की जीडीपी ग्रोथ का अनुमान 7.6% से घटाकर 5.7% किया; फिर भी सरकारी अनुमान से 0.7% ज्यादा

नई दिल्ली. यूनाइटेड नेशंस (संयुक्त राष्ट्र) ने 2019-20 में भारत की जीडीपी ग्रोथ का अनुमान 7.6% से घटाकर 5.7% कर दिया है। हालांकि, यह सरकार और आरबीआई के 5% के अनुमान से 0.7% ज्यादा है। संयुक्त राष्ट्र ने अगले वित्त वर्ष (2020-21) में 6.6% ग्रोथ की उम्मीद जताई है, पिछला अनुमान 7.4% का था। भारत समेत दुनियाभर में आर्थिक गतिविधियों में सुस्ती की वजह से यूएन ने ग्रोथ अनुमान कम किया है। 2020 में चीन की ग्रोथ का अनुमान 6.1% से घटाकर 6% किया है। इस बीच चीन ने शुक्रवार को सालाना ग्रोथ के आंकड़े भी जारी कर दिए। अमेरिका से ट्रेड वॉर के असर की वजह से चीन की जीडीपी ग्रोथ 2019 में 6.1% रही, यह 30 साल में सबसे कम है। फिर भी भारत की अनुमानित सालाना ग्रोथ (5%) के मुकाबले 1.1% ज्यादा है।

जीडीपी ग्रोथ 11 साल में सबसे कम रहने का अनुमान

संस्था/एजेंसी पिछला अनुमान मौजूदा अनुमान
यूनाइटेड नेशंस 7.6% 5.7%
राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) * 5%
आरबीआई 6.1% 5%
एसबीआई 6.1% 5%
वर्ल्ड बैंक 6% 5%
एशियन डेवलपमेंट बैंक 6.5% 5.1%
मूडीज 5.8% 5.6%
नॉमूरा 5.7% 4.9%

*सीएसओ ने अभी पहला अनुमान ही जारी किया है, दूसरा अनुमान फरवरी में आएगा।

  • ग्रोथ रेट 5% रहती है तो यह 11 साल में सबसे कम होगी, इससे कम 3.1% ग्रोथ 2008-09 में दर्ज की गई थी।
  • 2018-19 में देश की जीडीपी ग्रोथ 6.8% रही थी, यह 5 साल में सबसे कम।
  • जुलाई-सितंबर तिमाही में ग्रोथ सिर्फ 4.5% रही थी, यह 26 तिमाही में सबसे कम।

जीडीपी ग्रोथ में गिरावट क्यों?

  • ऑटो सेक्टर में पिछले साल मंदी छाई रही। वाहनों की बिक्री में 19 साल की सबसे तेज गिरावट दर्ज की गई। देश की जीडीपी में ऑटो इंडस्ट्री का 7% और मैन्युफैक्चरिंग जीडीपी में 49% शेयर है।
  • सितंबर में कॉर्पोरेट टैक्स में कटौती जैसे बड़े कदम के बावजूद देश में औद्योगिक गतिविधियों में सुस्ती बनी हुई है। अगस्त, सितंबर और अक्टूबर में इंडेक्स ऑफ इंडस्ट्रियल प्रोडक्शन (आईआईपी) में लगातार गिरावट दर्ज की गई। सितंबर में आईआईपी 4.3% घट गया। यह 8 साल में सबसे तेज गिरावट थी। अक्टूबर में 3.8% कमी आई। हालांकि, मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर की गतिविधियों में सुधार की वजह से नवंबर में औद्योगिक उत्पादन में 1.8% तेजी आई।
  • अर्थशास्त्रियों के मुताबिक नॉन बैंकिंग फाइनेंस कंपनियों (एनबीएफसी) का नकदी संकट भी जीडीपी ग्रोथ में गिरावट के लिए जिम्मेदार है।

खुदरा महंगाई दर साढ़े पांच साल में सबसे ज्यादा
दिसंबर में खुदरा महंगाई दर 7.35% रही। यह जुलाई 2014 के बाद सबसे ज्यादा है। सब्जियों खासकर प्याज की कीमतों में बढ़ोतरी की वजह से दिसंबर में महंगाई दर ज्यादा प्रभावित हुई। सब्जियां दिसंबर में 60.5% महंगी हुईं। दालों की कीमतों में 15.44% इजाफा हुआ।

बेरोजगारी दर 45 साल में सबसे ज्यादा, 2017-18 में 6.1% थी
जनवरी 2019 में राष्ट्रीय सांख्यिकी आयोग के दो सदस्यों पीसी मोहनन और जीवी मीनाक्षी ने इस्तीफा दे दिया था। दोनों ने सरकार द्वारा बेरोजगारी रिपोर्ट जारी नहीं करने के विरोध में इस्तीफा दिया था। कुछ ही दिन बाद नेशनल सैंपल सर्वे ऑफिस (एनएसएसओ) की रोजगार से जुड़ी एक रिपोर्ट लीक हुई। इसमें बताया गया कि 2017-18 में बेरोजगारी दर 45 साल में सबसे ज्यादा 6.1% के स्तर पर पहुंच गई। ग्रामीण क्षेत्रों में यह 5.3% और शहरी क्षेत्र में सबसे ज्यादा 7.8% रही। इनमें नौजवान बेरोजगार सबसे ज्यादा थे, जिनकी संख्या 13% से 27% थी। 2011-12 में बेरोजगारी दर 2.2% थी। 2016 की नोटबंदी के बाद रोजगार से जुड़ा यह पहला सर्वे था। हालांकि, तब नीति आयोग ने इन आंकड़ों को अपुष्ट बताया था। लोकसभा चुनाव में भाजपा की जीत और नई सरकार बनने के बाद केंद्र ने मई ने बेरोजगारी के यही आंकड़े जारी किए थे।

पिछले वित्त वर्ष के मुकाबले इस साल 16 लाख रोजगार घटेंगे: एसबीआई
एसबीआई की रिसर्च रिपोर्ट ईकोरैप में यह आशंका जताई गई है। इसके मुताबिक 2018-19 के मुकाबले इस साल, यानी 2019-20 में रोजगार के करीब 16 लाख अवसर घटने वाले हैं। अर्थव्यवस्था में लगातार आ रही गिरावट के कारण रोजगार प्रभावित हो रहे हैं।

शेयर बाजार रिकॉर्ड स्तर पर

सेंसेक्स पहली बार 42,000 के ऊपर है। पिछले दिनों कुछ बड़ी गिरावटों के बावजूद सेंसेक्स बीते डेढ़ महीने में 1000 अंक के फायदे में रहा है। 27 नवंबर को 41000 पर था। विश्लेषकों के मुताबिक विदेशी निवेशकों की खरीदारी से बाजार में तेजी आ रही है। इस महीने विदेशी निवेशकों ने अब तक करीब 524 करोड़ रुपए का नेट इन्वेस्टमेंट किया है। अंतरराष्ट्रीय स्तर परअमेरिका-चीन के बीच टैरिफ वॉर थमने और घरेलू मोर्चे पर बजट में बड़ी घोषणाओं की उम्मीद से निवेशक खरीदारी कर रहे हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
India GDP Growth Rate 2020 | United Nation (UN) WESP On India India GDP Growth Rate, Indian Economy Latest News and Updates; India’s GDP growth from 7.6 Percent to 5.7 Percent

अमेरिकी सैन्य अधिकारी का दावा, मिसाइल दागने के बाद 11 सैनिकों में ब्रेन इंजरी के लक्षण सामने आए

बगदाद. ईराक में अमेरिकी सैन्य बेस पर 8 जनवरी को हुए मिसाइल हमले में 11 अमेरिकी सैनिकों में ब्रेन इंजरी के लक्षण सामने आए। अमेरिका के सेंट्रल कमांड के प्रवक्ता कैप्टेन बिल अर्बन ने शुक्रवार कोकहा कि हमले के बाद सैनिकों मेंकॉनक्युसन सिम्पटम ( एक प्रकार की ब्रेन इंजरी) पाया गया। अभी भी उनकी जांच जारी है। हालांकि उन्होंने कहा कि हमले मेंकिसी की मौत नहीं हुई थी। इससे पहले अमेरिका ने हमले के बाद अपने सैनिकों के घायल होने या मारे जाने से इंकार किया था।

ईरान ने जनरल कासिम सुलेमानी की हत्या लेने के लिए 8 जनवरी की सुबह इराक के अनबर प्रांत में स्थित ऐन अल-असद बेस और इरबिल में एक ग्रीन जोन (अमेरिकी सैन्य ठिकानों) पर 22 बैलिस्टिक मिसाइलें दागीं थी।

हमले के एक दिन बाद हुई सैनिकों को समस्या

सैनिकों में काॅनक्युसन सिंपटमहमले के एक दिन बादसैनिकों की मेडिकल जांच के बाद सामने आए। इनमें से 8 सैनिकोंको आगे की जांच के लिए जर्मनी और 3 को कुवैत भेजा गया है। हमले के तुरंत बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ट्वीट कर सबकुछ ठीक होने की बात कही थी। उन्होंने कहा था कि हमारे पास दुनिया की सबसे शक्तिशाली और सैन्य उपकरणों से लैस सेना है।


क्या है कॉनक्युसन सिम्पटम
कॉनक्युसन सिम्पटम एक तरह की ब्रेन इंजरी है। आम तौर पर इसका प्रभाव अस्थायी होता है। इसमें सिर दर्द और कुछ देर के लिए यादाश्त जाने ,शरीर के संतुलन पर प्रभाव पड़ने जैसी शिकायतें हो सकती हैं। सिर में या शरीर के ऊपरी हिस्से में चोट लगने के कारण इसके लक्षण सामने आते हैं। कई बार यह लक्षण कब आते और जाते हैं इंसान को इसका पता भी नहीं चलता।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
ईरान ने 8 जनवरी की सुबह  इराक के अनबर प्रांत में स्थित ऐन अल-असद बेस पर 22 मिसाइलें दागी थी।

रूस बोला- कश्मीर भारत-पाकिस्तान का द्विपक्षीय मुद्दा, हम कभी इसे संयुक्त राष्ट्र में उठाने के पक्ष में नहीं रहे

नई दिल्ली. रूस ने एक बार फिर कश्मीर मुद्दे पर भारत का समर्थन किया है। भारत में रूस के राजदूत निकोलाय कुदाशेव ने शुक्रवार को कहा कि हम कभी कश्मीर मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र में उठाए जाने के पक्ष में नहीं रहे, क्योंकि यह असल रूप में भारत और पाकिस्तान के बीच का मामला है। उन्हें शिमला और लाहौर समझौते के आधार पर इसका हल करना है।

चीन ने एक दिन पहले ही पाकिस्तान की तरफ से यूएन की बैठक में कश्मीर मुद्दे पर चर्चा की मांग की थी। हालांकि, ज्यादातर देशों ने इस पर असहमति जताते हुए कहा था कि यह दो देशों का द्विपक्षीय मसला है। इसलिए इस मंच पर कश्मीर की चर्चा नहीं होनी चाहिए।

कश्मीर को लेकर भारत पर पूरा भरोसा: रूसी राजदूत

कुदाशेव ने कश्मीर के हालात सुधारने के लिए भारत की तरफ से उठाए कदमों पर भी भरोसा जताया। उन्होंने कहा, “मुझे कश्मीर जाने की कोई वजह समझ नहीं आती, क्योंकि यह भारत का आंतरिक मामला है। कश्मीर मामला भारत के संवैधानिक दायरे में आता है। इसलिए मेरे वहां जा कर स्थिति देखने की कोई जरूरत नहीं।

रूसी राजदूत ने पश्चिमी देशों पर तंज कसते हुए कहा, “जो भी लोग कश्मीर की स्थिति और वहां उठाए जा रहे भारत के कदमों को लेकर आशंकित हैं, वे जब चाहें तब कश्मीर जा कर स्थिति देख सकते हैं। कश्मीर मामले में हमें भारत पर कभी शक नहीं रहा।” कुदाशेव का यह बयान अमेरिका, यूरोप और अफ्रीकी देशों के राजनयिकों के 16 सदस्यीय डेलिगेशन के कश्मीर दौरे के बाद आया है। इन सभी देशों के नेता कश्मीर के हालात जानने पहुंचे थे।

2025 तक भारत को सारे एस-400 सिस्टम डिलीवर होंगे
रूस के डिप्टी चीफ ऑफ मिशन रोमन बाबुश्किन ने कहा है कि भारत को दी जाने वाली एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम का निर्माण कार्य पूरा हो गया है। सभी सिस्टम 2025 तक अलग-अलग चरणों में भारत को सौंप दिए जाएंगे। भारत ने दिसंबर 2018 में रूस से 5 अरब डॉलर में एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम खरीदने का समझौता किया था। इसमें से 80 करोड़ की पहली किश्त रूस को दी जा चुकी है।

भारत ने 5 अरब डॉलर में किया है एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम का समझौता।


Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
मोदी सरकार ने 5 अगस्त को कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाया था, इसके बाद से ही रूस इसे भारत का आंतरिक मामला बताता रहा है।

रोहित-धवन ने पहले विकेट के लिए अर्धशतकीय साझेदारी की, दोनों क्रीज पर मौजूद

खेल डेस्क. भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन वनडे की सीरीज का दूसरा मुकाबला शुक्रवार को राजकोट के सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में खेला जा रहा है। रोहित-धवन की जोड़ी ने पहले विकेट के लिए 50 रन जोड़ लिए हैं। दोनों क्रीज पर हैं। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया। ऑस्ट्रेलिया नेप्लेइंग इलेवन में कोई बदलाव नहीं किया। वहीं, भारत ने ऋषभ पंत की जगह मनीष पांडेय और शार्दुल ठाकुर की जगह नवदीप सैनी को टीम में शामिल किया। लोकेश राहुल विकेटकीपिंग करेंगे।

चोटिल विकेटकीपर ऋषभ पंत इस मैच में नहीं खेल रहे। उनकी जगह कर्नाटक के विकेटकीपर केएस भरत को टीम में शामिल किया गया, लेकिन वे प्लेइंग इलेवन में नहीं हैं।पहले वनडे में तेज गेंजबाज पैट कमिंस की गेंद पंत के हेलमेट पर लगी थी। वे बेंगलुरु में नेशनल क्रिकेट एकेडमी में रिहैबिलिटेशन के लिए गए हैं।

दोनों टीमें
भारत: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा (उप-कप्तान), शिखर धवन, लोकेश राहुल (विकेटकीपर), श्रेयस अय्यर, मनीष पांडेय, रविंद्र जडेजा, मोहम्मद शमी, नवदीप सैनी, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह।

ऑस्ट्रेलिया: एरॉन फिंच (कप्तान), डेविड वॉर्नर, मार्नश लबुशाने, स्टीव स्मिथ, एश्टन टर्नर, एलेक्स कैरी (विकेटकीपर), एश्टन एगर, पैट कमिंस, मिशेल स्टार्क, केन रिचर्डसन, एडम जम्पा।

कोहली के पास पोंटिंग का रिकॉर्ड तोड़ने का मौका

विराट कोहली के पास बतौर कप्तान तीनों फॉर्मेट (वनडे, टेस्ट और टी-20) में सबसे ज्यादा शतक लगाने का मौका है। फिलहाल, कोहली 41 शतक लगाकर पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग के साथ शीर्ष पर हैं। ऑस्ट्रेलिया मुंबई वनडे 10 विकेट से जीतकर सीरीज में 1-0 से आगे है।

विराट-पोंटिंगटी-20 में शतक नहीं लगा पाए

कोहली ने बतौर कप्तान 53 टेस्ट में 20 और 80 वनडे में 21 शतक लगाए हैं। वे अब तक 27 टी-20 में एक भी शतक नहीं लगा पाए हैं।पोंटिंग ने 77 टेस्ट में 19 और 230 वनडे में 22 शतक ठोके हैं। वेभी 17 टी-20 में शतक नहीं जमा पाए थे।

बतौर कप्तान तीनों फॉर्मेट में सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले टॉप 6 बल्लेबाज

खिलाड़ी मैच पारी रन शतक देश
विराट कोहली 170 197 11041 41 भारत
रिकी पोंटिंग 324 376 15440 41 ऑस्ट्रेलिया
ग्रीम स्मिथ 286 368 14878 33 द. अफ्रीका
स्टीव स्मिथ 93 118 5885 20 ऑस्ट्रेलिया
माइकल क्लार्क 139 171 7060 19 ऑस्ट्रेलिया
ब्रायन लारा 172 204 8410 19 वेस्टइंडीज

राजकोट में भारत अब तक वनडे नहीं जीता
सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में भारत ने अब तक दो वनडे खेले, जिनमें उसे हार मिली है। पिछला मैच भारत ने 18 अक्टूबर 2015 को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला था। यह मैच अफ्रीका ने 18 रन से जीता था। इससे पहले 11 जनवरी 2013 को इंग्लैंड ने भारतीय टीम पर 9 रन से जीत दर्ज की थी।

हेड-टू-हेड
दोनों टीमों के बीच अब तक हुए 138 वनडे में भारतीय टीम 50 में ही जीत सकी। ऑस्ट्रेलिया की टीम 78 में जीती। 10 मुकाबले बेनतीजा रहे। वहीं, भारत में दोनों के बीच अब तक 62 मैच हुए। इस दौरान टीम इंडिया 27 में जीती। 30 में हार का मिली। 5 मुकाबले बेनतीजा रहे।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
राजकोट वनडे में रोहित-धवन की जोड़ी।
ऑस्ट्रेलिया ने मुंबई में पहले वनडे में भारत को 10 विकेट से हराया था।