तिलकुंद चतुर्थी 15 को:इसे वरद विनायक चौथ भी कहते हैं, सुखी वैवाहिक जीवन और समृद्धि के लिए होता है ये व्रत

महाराष्ट्र और तमिलनाडु में शुक्ल और कृष्णपक्ष की चतुर्थी पर व्रत और भगवान गणेश की पूजा की परंपरा है