चाणक्य नीति:जो व्यक्ति अपने मित्र और रिश्तेदारों को छोड़कर पराये लोगों को महत्व देता है, वह बर्बाद हो जाता है